BREAKING NEWS
  • देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) का दावा, महाराष्ट्र में बीजेपी जल्द बनाएगी स्थिर सरकार- Read More »
  • महाराष्ट्र में दोबारा चुनाव नहीं चाहते हैं, कांग्रेस के साथ बैठक के बाद लिया जाएगा उचित निर्णय: शरद पवार- Read More »

जजों की नियुक्ति को लेकर फिर हुआ सुप्रीम कोर्ट कोलेजियम और केंद्र के बीच टकराव, जानें पूरा मामला

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : October 06, 2019 03:16:03 PM
कलीजियम और केंद्र के बीच टकराव

कलीजियम और केंद्र के बीच टकराव (Photo Credit : फाइल फोटो )

नई दिल्ली:  

जजों की नियुक्ति को लेकर सुप्रीम कोर्ट कोलेजियम और केंद्र सरकार के बीच टकराव का एक और मामला सामने आया है. ये मामला कर्नाटक हाईकोर्ट में 4 वकीलों की जज के तौर पर नियुक्ति से जुड़ा हुआ है. दरअसल सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में केंद्र के पास 4 वकीलों के नाम भेजे थे जिन्हें केंद्र ने खारिज कर दिया है. मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो इनमें से एक वकील पर लैंड माफिया और अंडरवर्ल्ड से साठगांठ के आरोप हैं.

वहीं दूसरी तरफ सीजेआई रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाले कोलेजियम ने केंद्र के चारों वकीलों के नामों को खारिज करने के फैसले को ठुकरा दिया है और एक बार फिर चारों वकीलों के नाम केंद्र के पास भेज दिए हैं.

यह भी पढ़ें: पीएम नरेंद्र मोदी के लिए आ रहा एक खास विमान, अमेरिकी प्रेसिडेंट के पास ही है ऐसी तकनीक

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस साल मार्च में सुप्रीम कोर्ट कोलेजियम ने कर्नाटक हाईकोर्ट में जजों की नियुक्ति के लिए 8 वकीलों के नाम भेजे थे जिनमें से 4 वकीलों के नाम केंद्र ने स्वीकार कर लिए और बाकी बचे चार नामों को मंजूर करने से इनकार कर दिया. इन चार नामों में सवानुर विश्वजीत शेट्टी, मारालुर इंद्रकुमार अरुण, मोहम्मद गौस शुकुरे कमल और एंगलगुप्पे सीतामरमैया शामिल है. केंद्र की तरफ से शेट्टी के नाम को खारिज करते हुए कहा गया कि उनके खिलाफ अंडरवर्ल्ड और लैंड माफिया से सांठगाठ के आरोप हैं. वहीं एम. आई. अरुण के नाम को खारिज करते हुए केंद्र सरकार ने कहा कि उनके करियर में भी दाग लगे है.

यह भी पढ़ें: इमरान खान के खिलाफ 27 से 'जंग' का ऐलान, सत्ता से बेदखल करने आ रहा सेना का 'प्यादा'

क्या है कोलेजियम की राय?

वहीं इस मामले में सुप्रीम कोर्ट कोलेजियम का कहना है कि केंद्र की आपत्तियों में दम नहीं है. उन्होंने ये भी कहा है कि शेट्टी और अरुण के खिलाफ लगे आरोपों की पुष्टि नहीं हुई है.

First Published: Oct 06, 2019 03:10:14 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो