पर्ल हार्बर हमले के समय वहीं मौजूद थे एयर चीफ मार्शल राकेश कुमार सिंह भदौरिया

NEWS STATE BUREAU  |   Updated On : December 05, 2019 12:31:50 PM
वायुसेना के प्रवक्ता ने कहा, वायुसेना प्रमुख और उनका दल सुरक्षित है.

वायुसेना के प्रवक्ता ने कहा, वायुसेना प्रमुख और उनका दल सुरक्षित है. (Photo Credit : News State )

दिल्ली:  

भारतीय वायु सेना ने अमेरिका के पर्ल हार्बर शिपयार्ड में गोलीबारी के मद्देनजर बृहस्पतिवार को कहा कि अमेरिकी सैन्य अड्डे पर मौजूद एयर स्टाफ के प्रमुख एयर चीफ मार्शल राकेश कुमार सिंह भदौरिया सुरक्षित हैं. वायुसेना प्रमुख भदौरिया हिंद प्रशांत क्षेत्र में बदलते सुरक्षा परिदृश्य पर बातचीत के लिए विभिन्न वायुसेना बलों के प्रमुखों के सम्मेलन में भाग लेने के लिए इस समय हवाई स्थित अमेरिकी अड्डे पर हैं. भारतीय वायुसेना के प्रवक्ता ने कहा, ‘‘वायुसेना प्रमुख और उनका दल सुरक्षित है.’’

यह भी पढ़ें- अखबार संचालक जीतू सोनी के 3 होटलों पर चला सरकारी बुलडोजर

एक अन्य अधिकारी ने बताया कि वायुसेना प्रमुख पर्ल हार्बर में अमेरिकी वायुसेना अड्डे पर ठहरे हुए हैं और गोलीबारी नौसैन्य अड्डे पर हुई. अधिकारी ने बताया कि ये दोनों जगह एक दूसरे के निकट नहीं हैं. 

बता दें दूसरे विश्‍वयुद्ध (Second World War) के समय अमेरिका (America) के पर्ल हार्बर (Pearl Harbor) पर बड़ा हमला हुआ था. अब एक बार फिर पर्ल हार्बर पर हमला हुआ है. इस हमले में कई लोगों के घायल होने की सूचना है, जिसमें तीन लोगों की हालत गंभीर बताई जा रही है. बताया यह भी जा रहा है कि वहां आग लगाने की भी कोशिश की गई. मौके पर पहुंचे सुरक्षाकर्मियों (Security Forces) ने जब हमलावर (Attcker) को पकड़ना चाहता तो उसने खुद को गोली मार ली. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पर्ल हार्बर नेवी बेस में घुसे बंदुकधारी ने अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी थी.

जिस वक्‍त पर्ल हार्बर पर यह हमला हुआ, उस समय भारतीय वायु सेना (Indian Airforce) के एयर चीफ मार्शल राकेश कुमार सिंह भदौरिया (Air CHief Marshal Rakesh Kumar Singh Bhadauria) और उनकी टीम भी वहां मौजूद थी. समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार, अमेरिकी नौसेना (American Navy) और एयरफोर्स (American Air Force) के हवाई स्थित पर्ल हार्बर-हिकम ज्वाइंट बेस पर मौजूद रहे एयर चीफ मार्शल और उनकी टीम अभी वहां सुरक्षित हैं. उन्हें किसी तरह का कोई नुकसान नहीं हुआ है. 

हवाई न्यूज ने पर्ल हार्बर में काम करने वाले एक व्यक्ति के हवाले से बताया, जब वह कंप्यूटर पर काम कर रहा था, तभी उसने गोली की आवाज सुनी. वह भागकर बाहर आया तो तीन लोग घायल पड़े थे. बंदूकधारी नौसेना की वर्दी में था. जब उसे पकड़ने की कोशिश की तो उसने खुद को भी मार ली. बंदूकधारी की मौत के चलते इस घटना को अंजाम देने के उसके उद्देश्‍य के बारे में पता नहीं चल पाया है. बता दें कि पर्ल हार्बर में जहाजों और पनडुब्बियों की मरम्मत का काम किया जाता था.

First Published: Dec 05, 2019 11:42:33 AM

RELATED TAG: Iaf, America,

Post Comment (+)

LiveScore Live Scores & Results

न्यूज़ फीचर

वीडियो