गंगा बचाव के अनशन पर बैठे संत गोपाल दास की बिगड़ी तबीयत, AIIMS में भर्ती

गंगा नदी की निर्मलता, अविरलता के लिए भूख हड़ताल पर बैठे संत गोपाल दास को AIIMS में भर्ती करवाया गया है.

  |   Updated On : October 13, 2018 07:23 PM
फोटो-IANS

फोटो-IANS

नई दिल्ली:  

गंगा नदी की निर्मलता, अविरलता के लिए भूख हड़ताल पर बैठे संत गोपाल दास को AIIMS में भर्ती करवाया गया है. तबीयत बिगड़ने के बाद अंत गोपाल दस को ऋषिकेश के अस्पताल में भर्ती करवाया गया. स्वामी सानंद की मृत्यु के बाद संत गोपाल दास मातृसदन में अनशन पर बैठे थे. गिरती सेहत के कारण गोपाल दास को रात दो बजे अस्पताल में भर्ती करवाया गया था.

संत गोपाल दस पिछले कई महीनों से उत्तराखंड के अलग-अलग जगहों पर अनशन कर रहे थे. संत गोपाल दास पहले ही बीमार चल रहे थे, नली डालकर पानी और जूस और अन्य तरल पदार्थ दिए जा रहे थे. बता दें कि गंगपुत्र स्वामी सानंद का दिल का दौरा पड़ने के कारण12 अक्टूबर को AIIMS में निधन हो गया. देशभर में गंगा के लिए सशक्त कानून बनाने की मांग कर रहे स्वामी सानंद ऋषिकेश के AIIMS में भर्ती थे. प्रोफेसर जीडी अग्रवाल 22 जून से अनशन पर थे.

इस दौरान वे केवल शहद और पानी ही ले रहे थे. 87 साल के जीडी अग्रवाल प्रोफेसर रह चुके है और इंडियन सेंट्रल पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड में सदस्य भी रह चुके थे. स्वामी सानंद सन्यासी का जीवन जी रहे थे. स्वामी सानंद गंगा नदी की स्वच्छता से जुड़े तमाम मुद्दों पर सरकार तक अपनी आवाज़ पहुंचा चुके हैं. स्वामी सानंद ने इस साल फरवरी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खत लिखकर गंगा के लिए अलग कानून बनाने की मांग की थी. सरकार की तरफ से किसी प्रकार की पहल न होने पर वे 22 जून से अनशन पर थे.

First Published: Saturday, October 13, 2018 06:31 PM

RELATED TAG: Aiims, Saint Gopaldas, River Ganga,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो