चीन और पाकिस्तान आतंकवाद को दे रहा बढ़ावा, भारत ने लिया आड़े हाथ

चीन और पाकिस्तान द्वारा आतंकवाद को बढ़ावा देने पर भारत ने दोनों देशों को आड़े हाथ लिया।

  |   Updated On : December 21, 2017 09:43 PM
सैयद अकबरुद्दीन (फाइल फोटो)

सैयद अकबरुद्दीन (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

चीन और पाकिस्तान द्वारा आतंकवाद को बढ़ावा देने पर भारत ने दोनों देशों को आड़े हाथ लिया। भारत ने चीन की आलोचना करते हुए कहा कि संयुक्त राष्ट्र के कुछ सदस्य देश आतंकवाद के खतरे को समझने में असफल रहे हैं। वे संकीर्ण राजनीतिक और रणनीतिक इरादे की वजह से ऐसा कर रहे हैं।

संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि सैयद अकबरुद्दीन ने कहा, 'दुनिया भर में आतंकी नेटवर्क से अंतरराष्ट्रीय शांति को खतरा बढ़ गया है। वे गलत विचारों को फैलाने, हथियार खरीदने और आतंकियों की भर्ती का काम करते हैं।'

अकबरुद्दीन ने बुधवार को सुरक्षा परिषद में अंतरराष्ट्रीय शांति और सुरक्षा के समक्ष चुनौतियों पर आयोजित खुली बहस में हिस्सा लिया।

उन्होंने कहा, 'आतंकवाद से निपटने में सहयोग से परिषद बच रहा है। आतंकी और आतंकी संगठनों पर प्रतिबंध लगाने में वह ठोस प्रगति नहीं कर पाया है।'

और पढ़ेंः  मनमोहन ने कहा-प्रोपेगेंडा था 2G घोटाला, सरकार का पलटवार, कहा-ईमानदारी का तमगा नहीं है कोर्ट का फैसला

अकबरुद्दीन ने कहा, 'आतंकवाद साझा चुनौती है जिस पर परिषद को ज्यादा ध्यान देना चाहिए। उन्होंने मौजूदा जटिल चुनौतियों से निपटने में परिषद की वैधानिकता और साख पर भी सवाल उठाया।'

उन्होंने कहा, 'नई चुनौतियों को पुराने तरीके से हल नहीं किया जा सकता।' इस तरह उन्होंने सुरक्षा परिषद में सुधार की वकालत की। अकबरुद्दीन ने मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद के पाकिस्तान में चुनाव लड़ने की घोषणा का भी जिक्र किया।

उन्होंने कहा, 'कुछ देश हैं जो यूएन से प्रतिबंधित आतंकी को राजनीतिक प्रक्रिया की मुख्यधारा में लाना चाहते हैं। यह अंतरराष्ट्रीय कानून का पूरी तरह से उल्लंघन है।'

और पढ़ेंः 2जी घोटाला: जस्टिस सैनी ने कहा, केस से 'पूरे मनोयोग' से जुड़ा रहा, लेकिन CBI ने ठोस तथ्य नहीं रखे

First Published: Thursday, December 21, 2017 05:36 PM

RELATED TAG: India, China, Pakistan, Terrorism, India Move In Terrorism, World Politics,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो