BREAKING NEWS
  • Today History: आज ही के दिन WHO ने एशिया के चेचक मुक्त होने की घोषणा की थी, जानें आज का इतिहास- Read More »
  • Horoscope, 13 November: जानिए कैसा रहेगा आज आपका दिन, पढ़िए 13 नवंबर का राशिफल- Read More »
  • देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) का दावा, महाराष्ट्र में बीजेपी जल्द बनाएगी स्थिर सरकार- Read More »

लगातार झटकों के बाद अब IMF से मोदी सरकार (Modi Sarkar) के लिए आई अच्‍छी खबर

IANS  |   Updated On : October 16, 2019 03:15:48 PM
लगातार झटकों के बाद अब IMF से मोदी सरकार के लिए आई अच्‍छी खबर

लगातार झटकों के बाद अब IMF से मोदी सरकार के लिए आई अच्‍छी खबर (Photo Credit : IANS )

नई दिल्‍ली :  

अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ-IMF) के अनुसंधान उपनिदेशक गियान मारिया मिलेसी-फेरेटी ने मंगलवार को कहा कि चालू वित्त वर्ष 2019-20 के लिए भारत की आर्थिक विकास दर (Economic Development Rate) अनुमान को हालांकि घटाकर कर छह फीसदी कर दिया गया है, लेकिन वैश्विक मानकों से यह फिर भी काफी मजबूत है. फेरेटी और आईएमएफ (IMF) की मुख्य अर्थशास्त्री गीता गोपीनाथ ने भारत (India) के लिए आशावादी नजरिया रखते हुए वाशिंगटन (Washington) में आईएमएफ के वैश्विक आर्थिक आउटलुक की रिपोर्ट पेश करते हुए एक प्रेसवार्ता में कहा कि अगले साल भारत की अर्थव्यवस्था (INdian Economy) रफ्तार पकड़ेगी.

यह भी पढ़ें : बिक सकता है भारत पेट्रोलियम (BPCL), सऊदी अरामको खरीद सकती है 53.29 फीसदी हिस्‍सेदारी

आईएमएफ की रिपोर्ट के अनुसार, भारत और चीन चालू वित्तवर्ष में अपनी 6.1 फीसदी की आर्थिक विकास दर के साथ दुनिया की प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं में शीर्ष स्थान पर रहेंगे. मिलेसी फेरेटी ने कहा, "भारत की आर्थिक विकास दर वैश्विक अर्थव्यवस्था के मानकों के अनुसार, कुल मिलाकर काफी मजबूत है जबकि हमने भारत के लिए काफी उच्च मानक रखे थे उसे कम है."

उन्होंने कहा कि छह फीसदी से अधिक आर्थिक विकास दर उल्लेखनीय है और खासतौर से उस देश के लिए काफी महत्वपूर्ण है जिसकी इतनी बड़ी आबादी है. गोपीनाथ ने कहा, "यह आर्थिक विकास दर वैश्विक अर्थव्यवस्था के विपरीत है जिसकी विकास दर सिकुड़कर 2019 में तीन फीसदी पर आ गई है और वैश्विक वित्तीय संकट के बाद से इसकी रफ्तार धीमी पड़ गई है."

यह भी पढ़ें : डूब मरो, डूब मरो, डूब मरो, पीएम नरेंद्र मोदी ने अनुच्‍छेद 370 पर विपक्षी नेताओं को घेरा

आईएमएफ ने भारत की अर्थव्यवस्था के लिए अगले साल रफ्तार भरने की उम्मीद जाहिर की है. गोपीनाथ ने कहा, "हमारा अनुमान है कि भारत 2020 में सात फीसदी की विकास दर हासिल करेगा."

आईएमएफ ने कहा कि भारत की अर्थव्यवस्था 2019 में 6.1 फीसदी की दर से रफ्तार भरेगी और 2020 में सात फीसदी की विकास दर हासिल करेगी. वैश्विक आर्थिक आउटलुक अप्रैल 2019 के मुकाबले 2019 के लिए 1.2 फीसदी की कटौती और 2020 के लिए 0.5 फीसदी की कटौती घरेलू मांग में उम्मीद से ज्यादा कमी को दर्शाती है."

यह भी पढ़ें : अयोध्या विवाद में अंतिम दिन की सुनवाई से पहले इस एक खबर ने मचा दी सनसनी

हालांकि आईएमएफ की रिपोर्ट में कहा गया है कि मौद्रिक नीति में नरमी, कॉरपोरेट टैक्स की दरों में कटौती और कॉरपोरेट व पर्यावरण संबंधी विनियमनों का समाधान करने की दिशा में हालिया उपायों से मदद मिलेगी.

First Published: Oct 16, 2019 03:15:48 PM

RELATED TAG: India, Imf, China,

Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो