BREAKING NEWS
  • देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) का दावा, महाराष्ट्र में बीजेपी जल्द बनाएगी स्थिर सरकार- Read More »
  • महाराष्ट्र में दोबारा चुनाव नहीं चाहते हैं, कांग्रेस के साथ बैठक के बाद लिया जाएगा उचित निर्णय: शरद पवार- Read More »

सरकार को RBI के अतिरिक्त रिजर्व के हस्तांतरण के पक्ष में बिमल जालान समिति

BHASHA  |   Updated On : July 17, 2019 03:13:42 PM
बिमल जालान (Bimal Jalan) - फाइल फोटो

बिमल जालान (Bimal Jalan) - फाइल फोटो (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के पूर्व गवर्नर बिमल जालान (Bimal Jalan) की अगुवाई वाली उच्चस्तरीय समिति ने केंद्रीय बैंक के पास पूंजी के उपयुक्त स्तर पर अपनी रिपोर्ट को बुधवार को अंतिम रूप दे दिया. छह सदस्यीय जालान समिति की नियुक्ति 26 दिसंबर, 2018 को की गई थी. समिति को केंद्रीय बैंक की आर्थिक पूंजी रूपरेखा ढांचे की समीक्षा कर रिजर्व बैंक के पास रहने वाले उपयुक्त पूंजी स्तर के बारे में सिफारिश देने को कहा गया था.

यह भी पढ़ें: प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना: तीसरे चरण में 1.25 लाख किलोमीटर सड़कों का होगा निर्माण

भारतीय रिजर्व बैंक के आर्थिक पूंजी ढांचे की समीक्षा के लिए स्थापित बिमल जालान पैनल ने पूर्व निर्धारित फार्मूले के आधार पर तीन से पांच साल की अवधि में सरकार को अतिरिक्त भंडार के हस्तांतरण की सिफारिश करने का फैसला किया है.

यह भी पढ़ें: मल्टीब्रांड में FDI संबंधी नियम में बदलाव का कोई प्रस्ताव नहीं

सूत्रों ने बुधवार को यहां समिति की बैठक के बाद कहा कि रिपोर्ट को अंतिम रूप दे दिया गया है. अब आगे और बैठक की जरूरत नहीं है. समझा जाता है कि समिति ने रिजर्व बैंक के पास उपलब्ध अतिरिक्त अधिशेष पूंजी को अगले तीन से पांच साल के दौरान सरकार को हस्तांतरित करने की सिफारिश की है.

First Published: Jul 17, 2019 03:13:42 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो