Breaking
  • गुजरात चुनाव: कांग्रेस ने दूसरी सूची जारी की, 13 उम्मीदवारों के नाम शामिल

UK में भारतीय-पाकिस्तानी किराएदार पका सकेंगे कढ़ी, केस हारा मकान मालिक

  |  Updated On : November 11, 2017 09:05 AM
UK में भारतीय-पाकिस्तान किराएदार पका सकेंगे कढ़ी (स्रोत: शाकाहारी इन्फो)

UK में भारतीय-पाकिस्तान किराएदार पका सकेंगे कढ़ी (स्रोत: शाकाहारी इन्फो)

लंदन:  

ब्रिटेन में अब भारतीय और पाकिस्तानी किराएदार खाना (कढ़ी) बना सकेंगे। ब्रिटिश मकान मालिक ने इस पर रोक लगाई थी। उनका कहना था कि भारत और पाकिस्तान के किराएदार कढ़ी बनाते थे और इसके काफी महक आती थी। ब्रिटेन की एक अदालत ने भारत और पाक के लोगों को अपनी संपत्तियां किराए पर देने पर ब्रिटिश मकान मालिक के प्रतिबंध को गैरकानूनी ठहराया है।

फर्गेस विल्सन की दक्षिण-पूर्व इंग्लैंड के केंट में सैकड़ों संपत्तियां हैं। उसकी इस नीति के खिलाफ मेडस्टोन काउंटी की अदालत ने इसी हफ्ते आदेश दिया, जिससे वह कानूनी लड़ाई हार गया। हालांकि, विल्सन ने नस्लभेदी होने से इनकार किया था।

ये भी पढ़ें: दिल्ली: धुंध के चलते 64 ट्रेनें लेट, 14 का समय बदला और 2 रद्द

आदेश में कहा गया है कि विल्सन भारतीय और पाकिस्तानी लोगों को अपनी संपत्तियां किराए पर देने से रोकने के लिए किसी भी प्रकार की नीति लागू नहीं कर सकता। अगर इस आदेश का उल्लघंन किया गया या फिर अदालत की अवमानना की तो उसे जेल भी हो सकती है। साथ ही भारी जुर्माना भी लग सकता है।

जज रिचर्ड पोल्डेन आदेश में कहा, 'मैंने यह नीति गैरकानूनी पाई है। इस तरह की नीतियों का हमारे समाज में कोई स्थान नहीं है।'

वहीं विल्सन का कहना है, 'मैंने उन लोगों को किराए पर रखने से मना किया है, जो घर में कढ़ी बनाते हैं।'

बता दें कि 69 साल के मकान मालिक ने समानता और मानवाधिकार आयोग (ईएचआरसी) के खिलाफ अदालत में खुद का बचाव किया। फिर ईएचआरसी ने इस नीति को चुनौती दी और इसे गलत बताया।

इसके बाद विल्सन ने ईएचआरसी के फैसले को कोर्ट में चुनौती दी, लेकिन उन्हें हार का सामना करना पड़ा।

ये भी पढ़ें: पद्मावती विवाद: बीजेपी विधायक ने कहा- ऐतिहासिक तथ्यों के साथ छेड़छाड़ बर्दाश्त नहीं होगी

RELATED TAG: Curry Smell,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो