Breaking
  • CBI कोर्ट ने पीएनबी धोखाधड़ी मामले में तीनों आरोपियों को 3 मार्च तक पुलिस कस्टडी में भेजा।
  • जम्मू-कश्मीरः मलंगपोरा में आतंकवादियों ने एयरफोर्स स्टेशन पर की गोलीबारी।
  • कानपुर: CBI ने रोटोमैक पेन के मालिक विक्रम कोठारी को लिया हिरासत में।
  • ओडिशा: परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम अग्नि-II मिसाइल का परीक्षण, पढ़ें पूरी खबर -Read More »
  • कमल हासन की राजनीतिक पार्टी के लॉन्च में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल होंगे शामिल
  • रोटोमैक के मालिक विक्रम कोठारी के आवास पर CBI का छापा अब भी जारी, पढ़ें पूरी खबर -Read More »

तीन देशों की यात्रा के बाद भारत लौटे पीएम मोदी, जानिए क्या-क्या हुए समझौते

  |  Updated On : February 12, 2018 08:04 PM

नई दिल्ली :  

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी तीन देशों की विदेश यात्रा करने के बाद स्वदेश लौट आए हैं। प्रधानमंत्री सोमवार शाम पालम एयरपोर्ट पहुंचे। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने उनका स्वागत किया। 

प्रधानमंत्री पश्चिम एशिया और खाड़ी के तीन देशों के दौरे पर गए थे। वह सबसे पहले फिलिस्तीन पहुंचे। मोदी यहां आनेवाले पहले भारतीय प्रधानमंत्री थे। यहां उन्होंने फिलिस्तीन के राष्ट्रपति महमूद अब्बास के साथ द्विपक्षीय बैठक की। इस बैठक में भारत और फिलिस्तीन के बीच हुए 6 अहम करार हुए

भारत और फिलिस्तीन के बीच हुए ये अहम करार

1-30 लाख डॉलर की लागत से एक भारत-फिलिस्तीन सुपर-स्पेशियलिटी अस्पताल की स्थापना को लेकर समझौता हुआ।
2- महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए ‘तुराथी’ नामक भारत-फिलिस्तीन केंद्र के निर्माण के लिए समझौता हुआ।
3- 5 लाख डॉलर की लागत से रमल्ला में एक नैशनल प्रिंटिंग प्रेस की स्थापना के लिए तीसरा समझौता हुआ।
4-दो नए स्कूलों के निर्माण के लिए भी समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर किए गए।
5-अबू दीस में जवाहर लाल नेहरू स्कूल फॉर बॉयज में एक अतिरिक्त मंजिल के निर्माण के लिए हस्ताक्षर किए गए।

दूसरे चरण में प्रधानमंत्री मोदी शनिवार को यूएई पहुंचे। वह यहां अबू धाबी के क्राउन प्रिंस और संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) बलों के उपकमांडर शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान से मिले। इस मुलाकात में कई समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए।

दोनों देशों के बीच ऊर्जा के क्षेत्र, रेलवे, श्रमशक्ति और वित्तीय सेवाओं जैसे क्षेत्रों में कुल पांच समझौते किए।

भारत और यूएई में हुए निम्नलिखित समझौते

1-इंडियन कंसोर्टियम (ओवीएल, बीपीआरएल और आईओसीएल) तथा अबूधाबी नेशलन ऑयल कंपनी (एडीएनओसी) के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए। इसके तहत भारतीय कंपनियों के समूह को अबूधाबी के तेल क्षेत्र में 10% हिस्सेदारी मिलेगी।
2-इसके अलावा श्रमशक्ति, रेलवे तथा आर्थिक क्षेत्र में दोनों देशों के बीच समझौते किए गए।

अपनी यात्रा के अंतिम चरण प्रधानमंत्री मोदी ओमान पहुंचे जहां उन्होंने दो दिन गुजारे। यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को ओमान के सुल्तान कबूस बिन साद अल साद के साथ द्विपक्षीय बातचीत की।

इसके अलावा उन्होंने डिप्टी प्राइम मिनिस्टर ऑफ काउंसिल सैयद फयद बिन महमूद अल सैयद के साथ भी मुलाकात की। ओमान और भारत के बीच इस दौरान 8 महत्वपूर्ण समझौते हुए।

ओमान और भारत के बीच हुए ये सभी समझौते

1- सिविल और वाणिज्यिक मामलों में कानूनी और न्यायिक सहयोग पर समझौता।

2- राजनयिक, विशेष सेवा और आधिकारिक पासपोर्ट धारकों के लिए आपसी वीजा छूट पर समझौता।

3-भारत और ओमान के बीच हेल्‍थ सेक्‍टर में सहयोग करने के लि‍ए भी एक समझौता कि‍या गया है।

4-बाहरी अंतरिक्ष के शांतिपूर्ण उपयोग में सहयोग के लिए भी समझौते पर हस्‍ताक्षर कि‍ए गए हैं।

5- भारत और ओमान राजनयिक संस्थान के बीच सहयोग के संबंध में भी एक MoU साइन कि‍या गया है।

6- राष्ट्रीय रक्षा अध्ययन और विश्लेषण के बीच शैक्षिक सहकारिता और स्कॉलरी सहयोग क्षेत्रों पर समझौता ज्ञापन।

7- भारत और ओमान के बीच पर्यटन सहयोग के क्षेत्र में समझौता ज्ञापन।

8- दोनों देशों के बीच मिलिट्री सहयोग के लि‍ए भी समझौते पर हस्ताक्षर कि‍ए गए हैं।

इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी भारत के लिए रवाना हो गए। भारत के लिए लौटने से पहले उन्होंने ओमान के मोतीश्वर मंदिर में पूजा-अर्चना भी की। मंदिर के बाद प्रधानमंत्री ने सुल्तान कबूस ग्रांड मस्जिद का भी दौरा किया।

RELATED TAG: Narendra Modi,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो