Breaking
  • तीन तलाक बिल: मेनका गांधी ने कहा- कानून की आवश्यकता पर नहीं उठाए सवाल
  • अब सरकार से बड़े आर्थिक सुधार की उम्मीद होगी बेमानी: एसोचैम
  • बलूचिस्तान: क्वेटा में चर्च के पास धमाका, चार घायल
  • INDvSL तीसरा वनडे: भारत ने टॉस जीतकर लिया गेंदबाजी का फैसला
  • असम के धेमाजी में आया 4.2 तीव्रता का भूकंप
  • सुरक्षा बलों ने बारामुला के पट्टन इलाके में सर्च ऑपरेशन किया लॉन्च
  • पाकिस्तान सरकार ने जाधव की पत्नी और मां के वीजा को किया मंजूर
  • कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पार्टी सांसद और पद अधिकारियों को दिया डिनर का न्योता
  • मध्यप्रदेश: कांग्रेस नेता कमल नाथ पर बंदूक तानने वाले पुलिस कांस्टेबल के खिलाफ FIR दर्ज
  • अमृतसर, जालंधर और पटियाला की 32 नगर परिषदों और नगर पंचायतों पर मतदान हुआ शुरू
  • गुजरात चुनाव: आज 6 बूथों पर फिर से होगा मतदान

पीएम नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस को बताया 'ओखी तूफान', कहा- गुजरात में टिकेगी नहीं

  |  Updated On : December 07, 2017 01:59 AM
पीएम नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो)

पीएम नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो)

अहमदाबाद:  

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अहमदाबाद में बुधवार को कांग्रेस पर सरदार पटेल और भीमराव अंबेडकर के साथ इंसाफ न करने का आरोप लगाया। उन्होंने कांग्रेस के उस दावे पर कटाक्ष किया, जिसमें गुजरात चुनाव में जीत की बात कही जा रही है।

मोदी ने चक्रवाती तूफान ओखी का जिक्र करते हुए कहा कि वह राज्य में दस्तक देने के लिए तैयार था, लेकिन दे नहीं पाया। इसी तरह कांग्रेस गुजरात में अपने पांव नहीं जमा पाएगी

'ओखी' की चेतावनी की अनदेखी कर अपने तीन दिवसीय प्रचार कार्यक्रम को जारी रखते हुए प्रधानमंत्री अहमदाबाद जिले के दक्षिणी हिस्से धंधुका में थे। उन्होंने एक बार फिर इस जगह के साथ अपने रिश्ते को याद करते हुए भाषण शुरू किया।

ओखी के बारे में चेतावनियों का जिक्र करते हुए उन्होंने कांग्रेस की ओर इशारा किया, 'जिसको लेकर बड़ा माहौल बनाया जाता है और कहा जाता है कि वह आ रहा है, वह कभी नहीं आता।'

और पढ़ेंः महज 37-47 सीटों के बीच सिमट सकती है कांग्रेस

दरअसल, कांग्रेस राज्य में प्रचार के दौरान दावा कर रही है कि वह चुनाव जीतने जा रही है। चक्रवाती तूफान मंगलवार को गुजरात की तरफ आया था, लेकिन बुधवार को कमजोर पड़ने के कारण अरब सागर से आगे नहीं बढ़ पाया।

मोदी ने कहा, 'हमें लगता है कि कांग्रेस ने सरदार पटेल के साथ इंसाफ नहीं किया, लेकिन मैं आपको बता दूं कि वह एकमात्र नहीं थे। एक परिवार ने संविधान के निर्माता, भीमराव अंबेडकर और उन सभी लोगों के साथ इंसाफ नहीं किया, जो राजनीति में महत्व रखते हैं। अंबेडकर को संवैधानिक निकाय चुनाव में सदस्यता लेने के लिए बंगाल के रास्ते जाना पड़ा था। कांग्रेस उन्हें भी भारत रत्न से सम्मानित नहीं कर सकी। बाबा साहब को केंद्र में कांग्रेस के पूरे शासन के दौरान कभी याद नहीं किया गया।'

उन्होंने कहा, 'हम ऐसे महान नेताओं को नमन करते हैं। गुजरात में विकास कार्यो को जारी रखते हुए, गुजरात के लोगों को महान नेताओं का सम्मान करना चाहिए।'

तीन तलाक के मुद्दे पर मोदी ने कहा, 'उत्तर प्रदेश चुनाव के दौरान, सर्वोच्च न्यायालय ने केंद्र सरकार को इस मुद्दे के प्रति हलफनामा दर्ज करने के लिए कहा था। कई ने मुझे चेतावनी दी कि यूपी में चुनाव आ रहे हैं, इसलिए हम ऐसा करने का जोखिम नहीं उठा सकते। कई लोग उम्मीद कर रहे थे कि मोदी सर्वोच्च न्यायालय से समय लेंगे, लेकिन मैंने कहा, जब सवाल हमारी मुस्लिम महिलाओं को लेकर है तो मुझे समय क्यों चाहिए। मुझे चुनावों की परवाह नहीं है। राजीव गांधी के समय के बाद से लंबित मुद्दे को सर्वोच्च न्यायालय ने मंजूरी दे दी है।'

और पढ़ेंः गुजरात ओपिनियन पोल पर कांग्रेस नेता शकील अहमद का आरोप, सभी चैनल पैसे लेकर कर रहे हैं सर्वे

सुन्नी वक्फ बोर्ड के अधिवक्ता कपिल सिब्बल द्वारा अदालत से राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद मामले की सुनवाई 2019 के आम चुनाव के बाद करने की मांग पर मोदी ने कहा, 'जब सिब्बल ने यह कहा तो कांग्रेस को यह कहना चाहिए था कि यह वह सिब्बल का व्यक्तिगत और निजी मुद्दा है। तो मैं आप से पूछता हूं कि 2019 का आम चुनाव कपिल सिब्बल को व्यक्तिगत रूप से और वक्फ बोर्ड को कैसे प्रभावित कर सकता है? क्या सुन्नी वक्फ बोर्ड चुनाव लड़ रहा है?'

हालांकि, इस बार दर्शकों से सवाल पूछने की मोदी की शैली को सकारात्मक जवाब मिलता नहीं दिखा। धंधुका भीड़, जिसमें आधे से ज्यादा बच्चे कुर्सियों पर बैठे थे। भीड़ से मोदी को अपने सवाल का पूरी तरह से जवाब नहीं मिला। उनकी बात पर कुछ लोग हंसते हुए दिखाई दिए।

प्रधानमंत्री ने भीड़ को सौर पंप का व्यावहारिक समाधान करने के लिए केंद्र सरकार के अभियान के बारे में बताया और सूचना दी कि यह कार्य प्रगति पर है, जो किसान का जीवन आसान बना सकता है। उन्होंने एक प्राचीन सभ्यता के चालू बंदरगाह धोलेरा को लेकर योजना के बारे में बताया।

उन्होंने कहा, 'मैंने धोलेरा के विकास के लिए यूपीए सरकार से कई बार अनुरोध किया, लेकिन उन्होंने कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई। लेकिन हमारे प्रयासों से 10 साल के भीतर धोलेरा मुंबई और राजकोट की तरह समृद्ध हो जाएगा।'

और पढ़ेंः न्यूज नेशन सर्वे: गुजरात में खिलेगा कमल, कांग्रेस के 'हाथ' को नहीं मिला साथ

RELATED TAG: Pm Narendra Modi, Ockhi Cyclone, Congress, Congress Like Ockhi Cyclone, Gujrat Polls, Gujrat Election 2017, Gujrat Election,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो