ट्रिपल तलाक पर छलका मुस्लिम महिला का दर्द, इंसाफ नहीं मिला तो करेंगे धर्म परिवर्तन

By   |  Updated On : May 19, 2017 01:45 PM
ट्रिपल तलाक की शिकार महिला ने दी खुदकुशी की धमकी (फाइल फोटो)

ट्रिपल तलाक की शिकार महिला ने दी खुदकुशी की धमकी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

तीन तलाक के मुद्दे पर पीड़ित महिलाओं का दर्द सामने आ रहा है। ऐसे में उत्तराखंड के उधम सिंह नगर की ट्रिपल तलाक की पीड़ित महिला ने इंसाफ न मिलने पर खुदकुशी की धमकी दी है। 

शामिया जहाँ नाम की इस महिला का एक वीडियो बुधवार को वायरल हो रहा है जिसमें वो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सुप्रीम कोर्ट से तीन तलाक मामले में इंसाफ की गुहार कर रही है।

शामिया जहाँ वीडियो में कह रही है, 'मेरे अनुभव के बाद मुझे लगता है कि हिंदु धर्म अपनाना ज़्यादा बेहतर है क्योंकि वहां ऐसी चीज़ें नहीं होती, या फिर दूसरा रास्ता आत्महत्या का है। मैंने बहुत सहा है।'  

शामिया जहाँ को उनके पति आसिफ ने गादरपुर पुलिस स्टेशन के अंदर ट्रिपल तलाक दिया था। जहाँ की 12 साल पहले उनके पति ने 4 साल की शादी के बाद तीन तलाक दे दिया था। 

हालांकि परिवार के लोगों के समझाने के बाद और 40 दिन के हलाला पीरियड के बाद वो फिर साथ रहने लगे। लेकिन उसके बाद वो उसे प्रताड़ित करने लगा जब उसने यह शिकायत गादरपुर पुलिस स्टेशन में शिकायत की तो उसने उसे पुलिस स्टेशन के अंदर तीन बार तलाक बोल कर फिर दोबारा तलाक दे दिया। 

बता दें कि तीन तलाक मामले में सुप्रीम कोर्ट में जारी 6 दिन की लगातार सुनवाई पूरी हो चुकी है और इस मामले में सर्वोच्च न्यायालय ने फैसला सुरक्षित रख लिया है।

अब देश भर की निगाहें सुप्रीम कोर्ट के आने वाले फैसले पर लगी हुई हैं। वहीं, गुरुवार को हुई आखिरी दिन की सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट में मुख्य याचिकाकर्ता सायराबानो के वकील ने तीन तलाक को पाप बताया था।

लगातार छह दिन चली इस सुनवाई पर पूरा देश टकटकी लगाए देखता रहा। मुस्लिम समुदाय की आस्था से जुड़ा यह मामला बेहद संवेदनशील है क्योंकि यह महिलाओं के हितों से भी जुड़ा हुआ है।

तीन तलाक: जानें सुप्रीम कोर्ट में हुई सुनवाई में कब क्या हुआ

गुरुवार को तीन तलाम मामले की सुनवाई के छठे और आखिरी दिन सुप्रीम कोर्ट ने सभी पक्षों की दलीलें सुनने के बाद फैसला सुरक्षित रख लिेया है।

यह भी पढ़ें: रणवीर सिंह का सामने आया हैरतअंगेज लुक, वायरल हुई तस्वीरें

IPL से जुड़ी ख़बरों को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे