Breaking
  • कर्नाटक विधानसभा चुनाव: बीजेपी-कांग्रेस ने जारी की स्टार कैंपेनर्स की लिस्ट
  • कर्नाटक सीएम सिद्धारमैया दो जगह से लड़ेंगे चुनाव, बदामी से भी नामांकन दाखिल करेंगे
  • IPL 2018 DD vs RCB: आरसीबी ने टॉस जीता, पहले गेंदबाजी का फैसला
  • पॉक्सो एक्ट में संशोधन के बाद स्वाति मालीवाल ने कल अनशन तोड़ने का किया ऐलान
  • पश्चिम बंगाल: पंचायत चुनाव के लिए नई नामांकन तिथि घोषित करेगा चुनाव आयोग: सूत्र
  • IPL 2018: कोलकाता ने किंग्स इलेवन पंजाब को दिया 192 रनों का लक्ष्य
  • कर्नाटक विधानसभा चुनाव: AIADMK ने उतारे 3 उम्मीदवार
  • 2002 हिट एंड रन केस: मुंबई सेशन कोर्ट ने सलमान खान के खिलाफ जमानती वॉरंट को रद्द किया
  • POCSO एक्ट में संशोधन को कैबिनेट की मंजूरी, 12 साल के छोटे बच्चों से रेप पर होगी फांसी
  • दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल ने बिटकॉइन रैकेट का किया पर्दाफाश, दो गिरफ्तार
  • चार दिवसीय यात्रा पर चीन और मंगोलिया जाएंगी विदेश मंत्री सुषमा स्वराज
  • आसाराम रेप केस: 25 अप्रैल को आएगा फैसला, 30 अप्रैल तक जोधपुर में 144 धारा होगी लागू

उत्तराखंड हाईकोर्ट ने निचली अदालत के तीन जजों को गलत आचरण के आरोप में किया निलंबित

  |   Updated On : December 06, 2016 11:08 PM

नई दिल्ली:  

उत्तराखंड उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश केएम यूसुफ ने निचली अदालत के तीन न्यायाधीशों को निलंबित कर दिया गया है। तीनों निलंबित न्यायधीशों का काम उनके पद के अनपरूप नहीं पाया गया। उन रक गलत आचरण का आरोप था 

एक गुमनाम शिकायत के आधार पर उच्च न्यायालय के महापंजीयक नरेंद्र दत्त ने इस मामले की जांच की। जांच के बाद तीनों जजों को निलंबित कर दिया गया।

जांच के बाद हल्द्वानी के श्रम न्यायालय की अधीकारी नीतू जोशी को सोमवार को निलंबित कर दिया गया। जबकि उत्तराखंड न्यायिक और कानूनी अकादमी के निर्देशक प्रदीप कुमार मणि और न्यायिक मजिस्ट्रेट (हल्द्वानी) दुर्गा को मंगलवार को उनके निलंबन के आदेश को सौंप दिए गए।

RELATED TAG: Uttarakhand, Chief Justice,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो