Breaking
  • बलूचिस्तान: क्वेटा में चर्च के पास धमाका, चार घायल
  • INDvSL तीसरा वनडे: भारत ने टॉस जीतकर लिया गेंदबाजी का फैसला
  • असम के धेमाजी में आया 4.2 तीव्रता का भूकंप
  • सुरक्षा बलों ने बारामुला के पट्टन इलाके में सर्च ऑपरेशन किया लॉन्च
  • पाकिस्तान सरकार ने जाधव की पत्नी और मां के वीजा को किया मंजूर
  • कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पार्टी सांसद और पद अधिकारियों को दिया डिनर का न्योता
  • मध्यप्रदेश: कांग्रेस नेता कमल नाथ पर बंदूक तानने वाले पुलिस कांस्टेबल के खिलाफ FIR दर्ज
  • अमृतसर, जालंधर और पटियाला की 32 नगर परिषदों और नगर पंचायतों पर मतदान हुआ शुरू
  • गुजरात चुनाव: आज 6 बूथों पर फिर से होगा मतदान

सुब्रमण्यम स्वामी ने किया दावा, अगली दीवाली राम मंदिर में मनाएंगे

  |  Updated On : December 03, 2017 09:07 AM
सुब्रमण्यम स्वामी (फाइल फोटो)

सुब्रमण्यम स्वामी (फाइल फोटो)

ख़ास बातें
  •  इलाहाबाद हाईकोर्ट पहले से ही इस विषय पर गहराई से गौर कर चुका है इसलिए सुन्नी वक्फ बोर्ड के लिए इसके खिलाफ दलील देने को कुछ भी बचा नहीं है: स्वामी
  •  बीजेपी नेता ने कहा कि राम मंदिर निर्माण के लिए एक नया कानून बनाने की कोई जरूरत नहीं है

नई दिल्ली:  

बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने शनिवार को दावा किया कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण बहुत ही जल्द शुरु होगा और अगली दीवाली तक भक्तों के लिए राम मंदिर बनकर तैयार हो जाएगा।

स्वामी ने 'रामराज्य' विषय पर भाषण देते हुए कहा, 'हम अगली दीवाली राम मंदिर में मनाएंगे।'

उन्होंने कहा, यह संभव है कि अयोध्या में राम मंदिर अगले साल अक्टूबर महीने तक लगभग बनकर तैयार हो जाए, क्योंकि सब कुछ तैयार है और निर्माण के लिए सभी सामग्री पहले से निर्मित है। उसे केवल जोड़ना है, जैसा स्वामी नारायण मंदिर के मामले में हुआ था।

रामजन्म भूमि और बाबरी मस्जिद मामले पर 5 दिसंबर को होने वाली सुनवाई पर स्वामी ने कहा, 'इलाहाबाद हाईकोर्ट पहले से ही इस विषय पर गहराई से गौर कर चुका है इसलिए सुन्नी वक्फ बोर्ड के लिए इसके खिलाफ दलील देने को कुछ भी बचा नहीं है।'

और पढ़ें: फिर उठा EVM गड़बड़ी का मुद्दा, जेटली ने कहा-बहाना खोज रहा विपक्ष

उन्होंने कहा, 'मैंने एक अतिरिक्त दलील दी है कि उस स्थान पर प्रार्थना करना मेरा और हिंदू समुदाय का मूलभूत अधिकार है। मुस्लिमों को वह अधिकार नहीं है, उनकी रुचि केवल सम्पत्ति में है, वह एक सामान्य बात है।'

बीजेपी नेता ने कहा कि राम मंदिर निर्माण के लिए एक नया कानून बनाने की कोई जरूरत नहीं है।

उन्होंने दावा किया कि तत्कालीन नरसिंह राव सरकार ने उच्चतम न्यायालय में दायर एक हलफनामे में कहा था कि यदि यह स्थापित हो जाता है कि उस स्थान पर एक मंदिर था तो जमीन मंदिर के निर्माण के लिए दे दी जाएगी।

उन्होंने कहा, 'वह अब साबित हो गया है, हम एक नया कानून ला सकते है। लेकिन, मैनें सोचा कि इसकी कोई जरुरत नही हैं क्योंकि हम केस जीत रहे हैं और मुझे पूरा विश्वास है कि हम जीतेंगे।

और पढ़ें: अक्षय कुमार, नीरज पांडे 26 जनवरी को होंगे आमने-सामने

RELATED TAG: Subramaniam Swamy, Next Diwali In Ram Mandir, Diwali, Babri Masjid, Bjp Leader, Ayodhya, News In Hindi,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो