Breaking
  • मोदी सरकार की नीतियों पर बोले राहुल, कहा- चीन से मुकाबले के लिए अभी और काम की ज़रुरत -Read More »
  • भूकंप से मेक्सिको में तबाही, मृतकों की संख्या बढ़कर 139 हुई -Read More »

ओवैसी ने पीएम मोदी से पूछा, 'जब तस्लीमा बहन बन सकती हैं तो रोहिंग्या भाई क्यों नहीं?'

By   |  Updated On : September 15, 2017 12:19 PM
असदुद्दीन ओवैसी (फाइल फोटो)

असदुद्दीन ओवैसी (फाइल फोटो)

ख़ास बातें
  •  ओवैसी ने केंद्र सरकार के सु्प्रीम कोर्ट में हलफनामे पर साधा निशाना
  •  ओवैसी ने कहा, जब तमिल शरणार्थी, तिब्बत के शरणार्थी रह सकते हैं तो रोहिंग्य क्यों नहीं
  •  बुलेट ट्रेन पर भी ओवैसी ने कसा तंज, खुद पर हमले की जताई आशंका

नई दिल्ली:  

AIMIM (ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलमीन) प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने रोहिंग्या मामले में केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के कदम की आलोचना करते हुए कहा है कि जब तस्लीमा नसरीन भारत में रह सकती हैं तो रोहिंग्या मुसलमान क्यों नहीं।

ओवैसी ने मोदी सरकार पर तंज कसते हुए कहा, 'जब तस्लीमा आपकी बहन बन सकती है तो क्या रोहिंग्या आपके भाई नहीं बन सकते मिस्टर मोदी? क्या ये इंसानियत है कि जिसका सबकुछ लुट गया उसे आपकी हुकूमत वापस भेज देना चाहती है।'

साथ ही हैदराबाद के सांसद ओवैसी ने एक जनसभा में गुरुवार को कहा कि जब सरकार तिब्बत के बौद्ध शरणार्थी को जगह दे सकती है तो 40,000 रोहिंग्या मुस्लिम को मोदी सरकार वापस भेजने पर क्यों तुली है।

यह भी पढ़ें: कानपुर: राष्ट्रपति कोविंद से मां ने अपने बेटे के लिए मांगी इच्छा मृत्यु

बता दें कि केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में एक हलफनामे में रोहिंग्या मुस्लिमों को देश की सुरक्षा के लिए खतरा बताया है और कहा है कि देश के व्यापक हित में उन्हें वापस भेजा जाना चाहिए।

ओवैसी ने पीएम मोदी से पूछा, 'कौन से कानून के तहत आप रोहिंग्या को वापस भेजना चाहते हैं। मिस्टर मोदी आप यूएन की सुरक्षा परिषद में हिंदुस्तान की स्थायी सदस्यता चाहते हैं, तो क्या एक सुपर पावर का ये मिजाज होगा?'

यह भी पढ़ें: केंद्र सरकार रोहिंग्या मुसलमानों पर सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हलफनामे में करेगी बदलाव

ओवैसी के मुताबिक, 'जब तिब्बत, तमिल शरणार्थी भारत में रह सकते हैं तो रोहिंग्या क्यों नहीं।'

ओवैसी ने बुलेट ट्रेन की आधारशिला रखे जाने पर भी बीजेपी और पीएम मोदी पर तंज कसा और कहा कि गोरखपुर में ऑक्सीजन की कमी से बच्चे मर गए। इसके लिए पैसे नहीं हैं लेकिन पीएम मोदी बुलेट ट्रेन लॉन्च कर रहे हैं।

साथ ही ओवैसी ने बेंगलुरू में पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या का जिक्र करते हुए आशंका जताई कि उन पर भी दक्षिणपंथी विचारधारा के लोग हमला कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें: शीतयुद्ध के बाद पहली बार रूस ने शुरू किया सबसे बड़ा सैन्य अभ्यास, पश्चिमी देशों की बढ़ी चिंता

RELATED TAG: Asaduddin Owaisi, Rohingya Muslims, Narendra Modi, Aimim,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो