Breaking
  • जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड ने नाबालिग आरोपी की जमानत अर्जी को खारिज किया
  • कांग्रेस को झटका, गुजरात चुनाव की काउंटिंग में SC का दखल से इंकार
  • राज्यसभा दिन भर के लिए स्थगित
  • क्रिकेटर अजिंक्य रहाणे के पिता हिरासत में, कार से महिला को कुचलने का लगा आरोप
  • तीन तलाक: सूत्रों के हवाले से खबर, मोदी कैबिनेट ने बिल पर लगाई मुहर
  • माइक्रोवेव ओवन इंपोर्ट पर कस्टम ड्यूटी 10 प्रतिशत से बढ़कर 20 फीसदी हुई
  • हिमाचल में कांग्रेस का सफाया, गुजरात में फिर BJP सरकार: एग्जिट पोल -Read More »
  • इन मुद्दों पर सरकार को घेरेगा विपक्ष, आक्रामक रहेगी कांग्रेस

फ्लाइट में पैसेंजर की मौजूदगी में कीटनाशकों के छिड़काव पर जारी रहेगा प्रतिबंध: NGT

  |  Updated On : June 20, 2017 07:50 PM

नई दिल्ली :  

नेशनल ग्रीन ट्राइब्यूनल ने अपने उस फैसले में बदलाव करने से इनकार कर दिया है जिसमें उसने कहा था कि पैसेंजर की मौजूदगी में एयरक्राफ्ट में कीटनाशकों का छिड़काव न किया जाए।

एनजीटी ने कहा है कि 2015 में दिये गए आदेश में किसी भी तरह की 'कोई गलती' नहीं है। साथ ही उस आदेश की समीक्षा से भी इनकार कर दिया।

अवकाश बेंच के जज यू डी साल्वी ने उस दलील को मानने से इनकार कर दिया कि पैसेंजर की मौजूदगी में एयरक्राफ्ट में परमेथ्रिन का छड़काव करने से स्वास्थ्य पर किसी तरह का नुकसान नहीं होता।

एनजीटी ने कहा, 'सिविल प्रॉसिजर कोड के तहत हमें लगता है कि इस संबंध में पहले दिये गए फैसले में किसी तरह की कोई गलती नहीं है और इसकी समीक्षा करने का कोई आधार नहीं बनता है।'

एनजीटी में इंडिगो एयरलाइन ने एक अपील दायर की थी और मांग की थी कि पैसेंजर की मौजूदगी में कीटनाशक स्प्रे करने पर रोक लगाने के फैसले की समीक्षा की जाए।

और पढ़ें: अनिल कुंबले ने इंडियन क्रिकेट टीम के कोच पद से दिया इस्तीफा

अगस्त 2015 में दिेये गए फैसले के खिलाफ इंडिगो ने दलील दी थी कि डेंगू और मलेरिया के मामलों में बढ़ोतरी हो रही है और प्रतिबंध के कारण वो इस संबंध में किसी तरह की कार्रवाई नहीं कर पा रहे हैं।

और पढ़ें: राष्ट्रपति चुनाव 2017: उद्धव ठाकरे ने कहा, शिवसेना रामनाथ कोविंद का करेगी समर्थन

अमेरिका में भारतीय मूल के न्यूरोसॉजिस्ट डॉ. जैन कुमार की याचिका पर एनजीटी में याचिका दायर की थी जिसके बाद एनजीटी ने केंद्र सरकार और उड्डयन मंत्रालय को आदेश दिया था कि पैसेंजर की मौजूदगी में कीटनाशकों का छिड़काव न कराया जाए।

डॉ. कुमार ने याचिका में कहा था कि कीटनाशकों में मौजूद केमिकल फेनॉथ्रिन एक न्यूरोटॉक्जीन है जिसके कारण कैंसर और पार्किंसन्स के आलावा दूसरी कई बीमारियां भी हो सकती हैं।

दुनिया के कई एयरलाइंस ने पैसेंजर की मौजूदगी में कीटनाशकों के छिड़काव पर प्रतिबंध लगा चुकी हैं।

और पढ़ें: बेनामी संपत्ति मामला: लालू परिवार की बढ़ी मुश्किलें, राबड़ी, तेजस्वी, मीसा के खिलाफ केस दर्ज

RELATED TAG: Ngt, Spray Of Disinfectants,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो