Breaking
  • Ind VS Aus: कुलदीप यादव ने लिया हैट्रिक, मैथ्यू वेड, एस्टन एगर और पैट कमिंस को भेजा पवेलियन
  • यूपी: नोएडा सेक्टर-110 में तीन कर्मचारियों की सीवर सफाई के दौरान हुई मौत
  • जम्मू-कश्मीर के अरनिया सेक्टर में पाकिस्तान ने तोड़ा सीज़फायर, बीएसएफ दे रही है जवाब
  • हाई कोर्ट के फैसले से बिफरी ममता, 'मुझे नहीं बताएं क्या करना है' -Read More »
  • अर्थव्यवस्था में जान फूंकने के लिए 500 अरब रुपये खर्च करेगी मोदी सरकार -Read More »

हरियाणा: शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा ने डेरा से 51 लाख रुपये का अनुदान वापस लिया

By   |  Updated On : September 15, 2017 11:49 PM
राम बिलास शर्मा, शिक्षा मंत्री, हरियाणा

राम बिलास शर्मा, शिक्षा मंत्री, हरियाणा

नई दिल्ली:  

डेरा सच्चा सौदा में हाल में हुए विवादों के मद्देनजर हरियाणा के शिक्षा मंत्री राम बिलास शर्मा ने शुक्रवार को कहा कि उनके द्वारा घोषित 51 लाख रुपये की अनुदान राशि वापस ले ली गई है।

शर्मा ने मीडिया से कहा, "डेरा सच्चा सौदा (सिरसा) के लिए 15 अगस्त को घोषित की गई 51 लाख रुपये की अनुदान राशि वापस ले ली गई है।"


मंत्री शर्मा डेरा के एक कार्यक्रम में 15 अगस्त को सिरसा स्थित डेरा सच्चा सौदा गए थे और उन्होंने हरियाणा सरकार की तरफ से 51 लाख रुपये का अनुदान देने की घोषणा की थी। सिरसा चंडीगढ़ से 260 किलोमीटर दूर है। शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा (60) डेरा प्रमुख राम रहीम के पैर छूते दिखाई दिए थे।

गौरतलब है कि डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम और अन्य के खिलाफ हत्या के दो अन्य मामलों में शनिवार को पंचकूला में सुनवाई होगी। 

यह मामला डेरा प्रमुख के अनुयायियों और उसके लिए काम करने वालों की ओर से कथित रूप से सिरसा के पत्रकार राम चंद्र छत्रपति और डेरा मैनेजर रंजीत सिंह की हत्या से जुड़ा हुआ है।

इस मामले की सुनवाई सीबीआई के विशेष न्यायाधीश जगदीप सिंह करेंगे, जिन्होंने इससे पहले 25 अगस्त को दुष्कर्म के दो मामलों में राम रहीम को 20 वर्ष की सश्रम कारावास की सजा सुनाई थी।

हरियाणा पुलिस महानिदेशक बी.एस. संधू ने शुक्रवार को बताया कि पंचकुला के सेक्टर 1 स्थित अदालत परिसर एवं अन्य क्षेत्रों में कानून व्यवस्था की स्थिति बनाए रखने के लिए बड़ी संख्या में अर्धसैनिक बलों और हरियाणा पुलिस के जवानों को तैनात किया गया है।

पंचकुला में शनिवार की सुनवाई से पहले डेरा समर्थकों के जमा होने की कोई खबर नहीं है, इससे पहले 25 अगस्त को हुई सुनवाई में यहां एक लाख से ज्यादा लोग एकत्रित हो गए थे।

और पढ़ें: हरियाणा पुलिस की बड़ी सफलता, हनीप्रीत का ड्राइवर राजस्थान से गिरफ्तार

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि दुष्कर्मी राम रहीम को शनिवार को सीबीआई की अदालत में पेश नहीं किया जाएगा। उसकी पेशी जिला जेल सुनारिया से ही वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से होगी।

उल्लेखनीय है कि छत्रपति और रंजीत सिह की 2002 में हत्या कर दी गई थी। राम रहीम दोनों मामलों में आरोपी है। उस पर कथित रूप से हत्या के लिए आदेश देने का आरोप है।

दुष्कर्म मामले में 25 अगस्त को दोषी ठहराए जाने के बाद राम रहीम के समर्थकों की हिंसा में 38 लोग मारे गए थे और 264 घायल हो गए थे।

सीबीआई की विशेष अदालत ने पंचकूला में 25 अगस्त को डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह इंसां को अपने दो साध्वियों के साथ दुष्कर्म के मामले में दोषी करार दिया था। राम रहीम अब 20 साल सश्रम कारावास की सजा भुगत रहा है। डेरा प्रमुख राम रहीम रोहतक के पास सुनारिया जिला जेल में बंद है।

गुरमीत राम रहीम सिंह के खिलाफ हत्या मामले में शनिवार को सुनवाई, पंचकूला में सुरक्षा सख्त

RELATED TAG: Dera Sacha Sauda, Hrayana, Ram Rahim, Ram Vilas Sharma,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो