Breaking
  • कोलकाता से आतंकी संगठन अल-कायदा के तीन संदिग्ध आतंकी गिरफ्तार, पूरी खबर पढ़ें -Read More »
  • बगदाद में कार विस्फोट, 21 की मौत

रेलवे टेंडर मामले में ईडी ने तेजस्वी यादव से 9 घंटे की पूछताछ

  |  Updated On : November 13, 2017 11:02 PM
पिता लालू यादव संग तेजस्वी यादव (फाइल फोटो)

पिता लालू यादव संग तेजस्वी यादव (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने सोमवार को राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजस्वी यादव से मनी लॉन्ड्रिंग के एक मामले में पूछताछ की है।

तेजस्वी से यह पूछताछ 2006 में आईआरसीटीसी होटल के रखरखाव अनुबंध मामले की जांच के संबंध में की गई। ईडी के एक अधिकारी ने कहा कि बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री से लगभग दिनभर चली पूछताछ में 100 से ज्यादा प्रश्न पूछे गए।

यह पूछताछ एजेंसी कार्यालय पर सुबह 11 बजे से शुरू हुई, जहां उनका बयान भी दर्ज किया गया। यह दूसरी दफा है, जब इस मामले में ईडी ने तेजस्वी से पूछताछ की है। इससे पहले ईडी तेजस्वी से 10 अक्टूबर को नौ घंटे से अधिक समय तक पूछताछ कर चुकी है।

तेजस्वी चार सम्मन को दरकिनार कर सोमवार को ईडी के समक्ष पेश हुए। ईडी तेजस्वी, उनके पिता व राजद के नेता लालू प्रसाद और उनके अन्य परिवार के सदस्यों के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग रोकथाम (पीएमएलए) मामले में वित्तीय अनियमितताओं की जांच कर रहा है।

तेजस्वी यादव का नीतीश पर बड़ा हमला, कहा सीएम के प्रवृति में ही विकृति है

तेजस्वी की मां राबड़ी देवी के खिलाफ ईडी ने छह सम्मन जारी किए हैं और इस मामले में अब उनसे पूछताछ की जाएगी।

प्रवर्तन निदेशालय ने 27 जुलाई को केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की एफआईआर पर पीएमएलए के तहत एक मामला दर्ज किया था, जिसमें फर्जी कंपनियों द्वारा कथित तौर पर हस्तांतरित धन की जांच की जा रही है।

सीबीआई ने पांच जुलाई को लालू, उनकी पत्नी और तेजस्वी के खिलाफ भ्रष्टाचार का एक मामला दर्ज किया था।

सीबीआई ने तीनों पर 2006 में रांची और पुरी में भारतीय रेलवे खानपान और पर्यटन निगम (आईआरसीटीसी) के दो अनुबंधों को आवंटित करने में कथित वित्तीय अनियमितता पाई थी। उस वक्त लालू रेल मंत्री थे।

तेजस्वी यादव होंगे आरजेडी के मुख्यमंत्री उम्मीदवार: लालू

सीबीआई ने कहा कि ठेका विजय और विनय कोचर के स्वामित्व वाली कंपनी सुजाता होटल को दिया गया था। जिन्होंने बदले में कथित तौर पर बिहार में एक प्रमुख भूखंड को रिश्वत के तौर पर दी थी।

अहलूवालिया कॉन्ट्रैक्टर्स के प्रमोटर बिक्रमजीत सिंह अहलूवालिया के अलावा पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रेमचंद गुप्ता की पत्नी सरला गुप्ता और आईआरसीटीसी के प्रबंध निदेशक पी.के. गोयल भी इस मामले में आरोपी हैं। सीबीआई ने इस मामले में तेजस्वी और लालू प्रसाद के बयान दर्ज कर लिए है।

यह भी पढ़ें: 'टाइगर जिंदा है' का पैक-अप, सलमान खान ने शेयर किया 'रेस 3' का फर्स्ट लुक

कारोबार से जुड़ी ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

RELATED TAG: Enforcement Directorate, Tejaswi Yadav, Railway Tender Case, Lalu Yadav,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो