Breaking
  • जम्मू-कश्मीर: पाकिस्तान ने उरी सेक्टर में किया सीजफायर का उल्लंघन, भारी गोलीबारी जारी
  • प्रिया प्रकाश ने तेलंगाना में अपनी फिल्म के खिलाफ दर्ज मामले पर सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की
  • नीरव मोदी केस: लखनऊ, नोएडा और गाजियाबाद में ईडी के छापे
  • मैसूर से उदयपुर तक चलने वाली पैलेस क्वीन हमसफर एक्सप्रेस को पीएम मोदी ने दिखाई हरी झंडी
  • रोटोमैक कंपनी के मालिक विक्रम कोठारी हिरासत में, CBI और ED ने केस दर्ज किया
  • UP: उपचुनावों के लिए BJP ने उम्मीदवारों की लिस्ट जारी की, गोरखपुर से उपेंद्र शुक्ला लड़ेंगे चुनाव
  • रोटोमैक कंपनी के मालिक विक्रम कोठारी के खिलाफ CBI ने दर्ज किया केस, छापेमारी शुरू

सुशील कुमार के बेटे की शादी समाज को दे गया एक नया संदेश, देखने को मिली सादगी

  |  Updated On : December 04, 2017 01:55 AM
सुशील मोदी के बेटे तथागत की हुई शादी (फोटो: ट्विटर)

सुशील मोदी के बेटे तथागत की हुई शादी (फोटो: ट्विटर)

नई दिल्ली:  

रविवार को बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के बेटे उत्कर्ष तथागत की शादी में एक सरल सादगी देखने को मिली। शादी में न कोई बैंड बाजा और न कोई बारात देखने को मिली। यह शादी समाज को दहेज न लेने और फिजूलखर्च न करने का एक संदेश दे गई।

रविवार को यह अनोखी शादी थी और हर नेग, हर रस्म के साथ संदेश देती गई। दो घंटे तक शादी का समारोह चला। पटाखे नहीं छूटे। बैंड नहीं बजा। अतिथियों को भोज नहीं दिया गया।

सादगी भरे समारोह में सात फेरों के बाद उत्कर्ष और यामिनी एक दूजे के हो गए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने फोन पर वर-वधू को आशीर्वाद दिया।

और पढ़ें: सुशील मोदी के बेटे की शादी में लालू और नीतीश के बीच दिखा 20 कुर्सियों का फासला

वेटनरी कॉलेज के मैदान में ई-निमंत्रण से बुलाए गए आम और खास अतिथियों ने दो घंटे तक बारीकी से मंच को निहारा। विवाह की रस्में जिस तरीके से संपन्न कराई जा रही थीं, नयापन था।

वैदिक मंत्रों के साथ रमेश जोशी की टीम ने दो घंटे से कम ही समय में शादी की सभी रस्में संपन्न करा दीं। संगीतमय माहौल था। सात साल पहले ही सुशील कुमार मोदी ने एक विशेष शादी समारोह को देखकर तय कर लिया था कि वे अपने बेटे की शादी कुछ ऐसी ही कराएंगे।

उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के बड़े पुत्र उत्कर्ष पटना के वेटनरी ग्र्राउंड मैदान के समारोह में यामिनी के साथ परिणय सूत्र में बंधे। इसे आप थीम शादी कह सके हैं। दहेज नहीं लिया गया। बरात नहीं निकली। फिजूलखर्ची नहीं हुई। उपहार नहीं लिए गए। भोज नहीं दिया गया।

अगर किसी को गिफ्ट देने का मन किया, तो उसने देह दान और अंग दान के संकल्प लिए। अतिथियों के स्वागत में जुटे सुशील कुमार मोदी रोज की तरह की अपने पारंपरिक कपड़ों में थे। बेटे उत्कर्ष ने खादी का कुर्ता-पायजामा पहन रखा था। वधू जरूर लहंगे में थी।

और पढ़ें: घोटालों का 'मैनुफैक्चरर स्टेट' बन गया है बिहार: तेजस्वी

RELATED TAG: Sushil Kumar Modi Son Marriage, Utkarsh Tathagat, Dowryless Marriage, Pm Narendra Modi, Rajnath Singh, Bihar News,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो