Fifa World cup 2018: मोरक्को के खिलाफ रोनाल्डो के गोल से जीता पुर्तगाल

कप्तान क्रिस्टियानो रोनाल्डो द्वारा हेडर के जरिए किए गए गोल की मदद से पुर्तगाल ने बुधवार को खेले गए ग्रुप मुकाबले में मोरक्को को 1-0 से हराकर फीफा विश्व कप-2018 में अपना जीत का खाता खोल दिया।

  |   Updated On : June 20, 2018 07:48 PM
क्रिस्टियानो रोनाल्डो (फाइल फोटो)

क्रिस्टियानो रोनाल्डो (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

कप्तान क्रिस्टियानो रोनाल्डो द्वारा हेडर के जरिए किए गए गोल की मदद से पुर्तगाल ने बुधवार को खेले गए ग्रुप मुकाबले में मोरक्को को 1-0 से हराकर फीफा विश्व कप-2018 में अपना जीत का खाता खोल दिया।

लुज्निकी स्टेडियम में इस हार के बाद मोरक्को की टीम नॉकआउट से लगभग बाहर हो गई है। उसे ग्रुप-बी में खेले गए पहले मैच में ईरान से हार का सामना करना पड़ा था।

चौथे ही मिनट में कॉर्नर से मिले गोल के अवसर को पुर्तगाल के लिए कप्तान रोनाल्डो ने जाया नहीं जाने दिया। बर्नाडो सिल्वा ने कॉर्नर से गोल पास किया, जिसे रोनाल्डो ने हेडर के शॉट के साथ मोरक्को के गोल पोस्ट तक पहुंचाकर पुर्तगाल का खाता खोला।

रोनाल्डो विश्व स्तर पर सबसे अधिक गोल दागने वाले यूरोपीय खिलाड़ी बन गए हैं। उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कुल 85 गोल किए हैं। यही नहीं, वह विश्व कप चार या उससे अधिक गोल करने वाले दूसरे पुर्तगाली खिलाड़ी हैं। 1966 में युसेबियो ने नौ गोल दागे थे। रोनाल्डो ने स्पेन के खिलाफ तीन गोल किए थे। वह मुकाबला 3-3 से बराबरी पर छूटा था।

पुर्तगाल के सामने मोरक्को का डिफेंस बेहद कमजोर था। आठवें मिनट में रोनाल्डो को एक और मौका मिला, लेकिन उनका शॉट गोल पोस्ट के बेहद करीब से होकर गुजर गया।

रोनाल्डो की टीम के खिलाफ संघर्ष कर रही मोरक्को को 10वें मिनट में कॉर्नर से गोल का अवसर मिला, लेकिन पुर्तगाल के गोलकीपर रुइ पेट्रिको ने इसे शानदार तरीके से सेव कर दिया।

बाईं ओर से मोरक्को का डिफेंस पुर्तगाल के अटैक को नहीं झेल पा रहा था। इसी कारण उसकी कई कोशिशें नाकाम हो रही थीं। 10 मिनट में उसे तीन बार कॉर्नर से गोल दागने का अवसर मिला और तीनों बार टीम असफल रही।

पहले गोल के साथ बढ़त हासिल करने वाली पुर्तगाल कहीं न कहीं अपनी लय को खो रही थी। हालांकि, इस बीच 30वें मिनट में रोनाल्डो ने फ्रीकिक पर गोल किया, लेकिन मोरक्को ने इसे असफल कर दिया।

अवसरों को भुना पाने में असफल रही मोरक्को टीम पहले हाफ में गोल स्कोर नहीं कर पाई और पुर्तगाल ने पहले हाफ के समापन तक 1-0 की बढ़त बनाए रखी।

दूसरे हाफ की शुरुआत के बाद एक समय पर दो मिनट के भीतर मोरक्को के गोल के लिए दागे दो शॉट पुर्तगाल के गोलकीपर पेट्रिको ने बेहतरीन तरीके से सेव करते हुए रद्द कर दिए। मोरक्को के कप्तान मेहदी बेनातिया और मिडफील्डर नौरेदिने अमराबत आगे बढ़ते हुए अपनी हर कोशिश कर रहे थे, लेकिन उन्हें अटैकिंग टीम से मदद नहीं मिल रही थी।

मोरक्को को 78वें और 79वें मिनट में फ्री किक से गोल करने के दो अवसर मिले। पहले मौके पर कप्तान बेनातिया का हेडर गोल पोस्ट के की बाहरी ओर निकल गया, वहीं दूसरी कोशिश भी नाकाम हो गई।

पुर्तगाल के डिफेंस पर मोरक्को का अटैक लगातार जारी था, लेकिन उसकी हर कोशिश नाकाम हो रही थी। मैच के निर्धारित समय की समाप्ति के बाद पांच मिनट के अतिरिक्त समय में 93वें मिनट में कप्तान बेनातिया को गोल करने का अवसर मिला था, लेकिन वह इसमें भी नाकाम रहे और इस कारण आखिरकार मोरक्को को पुर्तगाल से 0-1 से हार का सामना करना पड़ा।

विश्व कप से बाहर हो चुकी मोरक्को को अपना आखिरी ग्रुप मैच स्पेन के खिलाफ खेलना है। पुर्तगाल ने इस मैच से तीन अंक हासिल किए हैं, लेकिन अंतिम-16 दौर में उसका प्रवेश ईरान के खिलाफ आखिरी मुकाबले से तय होगा।

First Published: Wednesday, June 20, 2018 07:32 PM

RELATED TAG: Fifa World Cup 2018, Cristiano Ronaldo,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो