Breaking
  • ट्राई ने घटाई टर्मिनेशन दरें, कम होगा आपका मोबाइल बिल -Read More »
  • रॉकेट मैन अपने लोगों और भ्रष्ट शासन के लिए आत्मघाती मिशन पर: ट्रंप -Read More »
  • इकबाल कासकर मामले में दाऊद और नेताओं के रोल की भी होगी जांच -Read More »

आधार पार करेगा संवैधानिकता की हर कसौटी, अरुण जेटली ने जताई आस

By   |  Updated On : September 13, 2017 03:18 PM
अरुण जेटली, वित्त मंत्री (फाइल फोटो)

अरुण जेटली, वित्त मंत्री (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि नोटबंदी के बाद अब समाज में नकदी की मात्रा को कम करने के प्रयास कर रहे हैं। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा है, 'आधार योजना का विचार जब लाया गया था तब इसकी पूर्ण क्षमता का एहसास ही नहीं हुआ कि यह एक बहुत विस्तृत विचार है।'

उन्होंने उम्मीद जताई कि आधार न्यायालय में संवैधानिकता की कसौटी पर खरा उतरेगा। वित मंत्री ने कहा, 'मुझे यकीन है कि आधार कानून संवैधानिकता की परीक्षा में खड़ा होगा।'

अरुण जेटली ने नोटबंदी के फायदे गिनाते हुए कहा कि इससे नकद की मात्रा में कमी आई, कर के आधार में वृद्धि हुई, अर्थव्यवस्था अधिक औपचारिक रूप से गठित हुई।

वहीं उन्होंने पीएम की वित्तीय समायोजन के लिए लाई गई बहुप्रचलित जनधन योजना की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि वंचित वर्गों के लिए खोले गए इन खातों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है।

वित्त मंत्री ने कहा, 'प्रधानमंत्री जन धन योजना के तहत शून्य बैलेंस खातों में 3 साल में 77 फीसदी की कमी घटकर अब 20 फीसदी तक हो गई है।' वित्त मंत्री अरुण जेटली यह बातें वित्तीय समायोजन के मुद्दे पर आयोजित समारोह में बोल रहे थे।

यह भी पढ़ें: ट्रोल का शिकार हुई 'अंगूरी भाभी' शिल्पा शिंदे, लोगों ने कहा 'मोटी'

कारोबार से जुड़ी ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

RELATED TAG: Arun Jaitley, Modi Govt, Economic Reforms, Demonetisation, Jan Dhan Yojana, Aadhar,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो