Breaking
  • IPL 2018 FINAL: सनराइजर्स हैदराबाद ने चेन्नई सुपर किंग्स को दिया 179 का लक्ष्य
  • चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान एमएस धोनी ने जीता टॉस, पहले फील्डिंग का फैसला किया
  • मुंबई: गोरेगांव (पश्चिम) एसवी रोड पर टेक्निक प्लस वन की बिल्डिंग में आग लगी
  • केरल: निपाह वायरस के कारण एक अन्य की मौत, मरने वालों की संख्या 14 हुई
  • ओमान चांडी को आंध्र प्रदेश का कांग्रेस प्रभारी नियुक्त किया गया, दिग्विजय सिंह की जगह लेंगे
  • पीएम मोदी 44वीं बार करेंगे मन की बात, छात्रों को दिखाएंगे रास्ता पढ़ें पूरी खबर -Read More »
  • पीएम मोदी दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर करेंगे रोड शो, सोलर पावर से लैस हाईवे का करेंगे उद्घाटन -Read More »

दिल्ली के मुख्य सचिव मारपीट मामले में गवाह मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के सलाहकार ने दिया इस्तीफा

  |   Updated On : March 13, 2018 12:05 PM
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के सलाहकार वी के जैन ने मंगलवार को इस्तीफा दे दिया। जैन ने अपने इस्तीफे का कारण व्यक्तिगत और पारिवारिक बताया है।

दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश के साथ आम आदमी पार्टी (आप) विधायकों द्वारा कथित मारपीट मामले में पूछताछ के कुछ दिनों के बाद ही वी के जैन ने इस्तीफा दे दिया।

सूत्रों के मुताबिक, जैन ने अपना इस्तीफा मुख्यमंत्री कार्यालय (सीएमओ) को सौंपा है और उसकी एक कॉपी उपराज्यपाल अनिल बैजल को भी भेजा है।

वी के जैन की नियुक्ति पिछले साल सितंबर में हुई थी। इससे पहले वे दिल्ली शहरी आश्रय विकास बोर्ड (डीयूएसआईबी) के सीईओ पद से रिटायर हुए थे।

अंशु प्रकाश के साथ 19 फरवरी को हुई कथित मारपीट की घटना के बाद जैन मुख्यमंत्री कार्यालय नहीं आ रहे थे और सप्ताह भर के लंबी मेडिकल छुट्टी पर चले गए थे।

दिल्ली पुलिस ने पिछले सप्ताह अदालत को बताया था कि पूछताछ के दौरान जैन ने केजरीवाल के आवास पर मुख्य सचिव के साथ आप विधायक प्रकाश जरवाल और अमानतुल्ला खां के द्वारा मारपीट का खुलासा किया था।

हालांकि इससे पहले जैन ने कहा था कि उन्होंने घटना के वक्त कुछ भी नहीं देखा था क्योंकि उस वक्त वे वॉशरूम चले गए थे। बता दें कि अंशु प्रकाश के साथ कथित मारपीट मुख्यमंत्री केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया की उपस्थिति में हुई थी।

दिल्ली सरकार की तरफ से कहा गया था कि मुख्य सचिव बीजेपी की शह पर काम कर रहे हैं तथा यह घटना आप सरकार को बर्खास्त करने का बहाना है।

इस घटना के विरोध में आईएएस और डीसीएस अधिकारी आप सरकार के मंत्रियों के साथ अब तक मीटिंग में उपस्थित नहीं हो रहें हैं। वे सिर्फ लिखित तरीके से उनके साथ संवाद स्थापित कर रहे हैं।

और पढ़ें: सोनिया की 'डिनर डिप्लोमेसी', क्या तैयार हो पाएगी विपक्षी एकता की जमीन !

RELATED TAG: Delhi, Delhi Cm Arvind Kejriwal, Arvind Kejriwal, V K Jain, Anshu Prakash,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो