बिहार : पटना उच्च न्यायालय ने मिट्टी घोटाले पर सरकार से मांगा जवाब

  |  Updated On : October 13, 2017 11:04 PM
पटना उच्च न्यायालय

पटना उच्च न्यायालय

नई दिल्ली:  

पटना में एक मॉल निर्माण के दौरान वहां की मिट्टी संजय गांधी जैविक उद्यान में डलवाने के मामले की जांच निष्पक्ष एजेंसी से करवाने की मांग को लेकर दायर एक जनहित याचिका पर शुक्रवार को सुनवाई करते हुए पटना उच्च न्यायालय ने सरकार से छह सप्ताह के भीतर विस्तृत रिपोर्ट तलब की है।

पटना उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश राजेंद्र मेनन और न्यायाधीश अनिल उपाध्याय की खंडपीठ ने जाने-माने वकील मणि भूषण प्रताप सेंगर की एक जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए सरकार से कथित मिट्टी घोटाले की जांच की विस्तृत रिपोर्ट अदालत में पेश करने का आदेश दिया है।

जनहित याचिका दायर करने वाले अधिवक्ता सेंगर ने बताया कि अदालत ने सरकार से इस संबंध में भी जवाब मांगा है कि इससे कहीं पर्यावरण को तो नुकसान नहीं पहुंचा है। उन्होंने बताया कि अदालत ने सरकार से यह भी बताने को कहा है कि इस मामले अब तक दोषियों के खिलाफ क्या कारवाई की गई है? मामले की अगली सुनवाई छह सप्ताह बाद होगी।

और पढ़ें: ये क्या? बिहार शिक्षा विभाग ने कश्मीर को बताया अलग 'देश'!

उल्लेखनीय है कि भाजपा के नेता सुशील कुमार मोदी ने अप्रैल महीने में राजद के अध्यक्ष लालू प्रसाद के पुत्र और तत्कालीन वन एवं पर्यावरण विभाग के मंत्री पर आरोप लगाया था कि उनके परिवार के पटना में बन रहे एक मॉल की निकली मिट्टी का उपयोग संजय गांधी जैविक उद्यान में जा रही है।

आरोप लगाया गया था कि मॉल की मिट्टी को बिकवाने के लिए उद्यान में सौंदर्यीकरण के नाम पर अनावश्यक 90 लाख की पगडंडी बनाने काम शुरू किया गया। बाद में हालांकि राज्य के मुख्य सचिव ने इस मामले में विभाग को क्लीनचिट दे दी थी।

इस मामले की निष्पक्ष जांच की मांग को लेकर अधिवक्ता सेंगर ने इसी साल सात अप्रैल को पटना उच्च न्यायालय में एक जनहित याचिका दायर की थी।

और पढ़ें: जापान: मालवाहक जहाज डूबने से 11 भारतीय लापता, 15 बचाए गए, बचाव कार्य जारी

RELATED TAG: Patna Hc, Clay Scam, Government, Patna, Bihar,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो