ट्रंप प्रशासन ने पेश की नई इमिग्रेशन पॉलिसी, भारतीय पेशेवरों को मिल सकता है फायदा

इस नई इमिग्रेशन नीति में कहीं भी H-1B वीजा का जिक्र नहीं है। इस पर भारतीय आईटी पेशेवरों की सबसे ज्यादा निगाह रहती है।

  |   Updated On : October 10, 2017 06:36 AM
डोनाल्ड ट्रंप (फाइल फोटो)

डोनाल्ड ट्रंप (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप नई इमिग्रेशन पॉलिसी का प्रस्ताव पेश कर दिया है। ट्रंप की नई इमिग्रेश पॉलिसी मेरिट आधारित है और इसलिए भारतीयों को इसका बड़ा फायदा मिल सकता है। वैसे, इस योजना से वह भारतीय पेशेवर निराश होंगे जो अपना परिवार वहां ले जाना चाहते हैं।

हालांकि, इस नई इमिग्रेशन नीति में कहीं भी H-1B वीजा का जिक्र नहीं है। इस पर भारतीय आईटी पेशेवरों की सबसे ज्यादा निगाह रहती है। ट्रंप नए आव्रजन नीति का मसौदा अमेरिकी संसद 'कांग्रेस' को भेज चुके है।

ट्रंप ने मेरिट आधारित इमिग्रेशन सिस्टम की वकालत करते हुए कांग्रेस से कहा कि मौजूदा नीति राष्ट्रीय हितों के अनुसार नहीं है और इससे परिवार आधारित माइग्रेशन को ही बल मिलता है।

यह भी पढ़ें: अर्थशास्त्र का नोबेल जीतने वाले रिचर्ड थेलर ने किया था नोटबंदी का समर्थन

बता दें कि ट्रंप पहले ही बचपन में अमेरिका में अवैध तरीके प्रवेश करने वाले नाबालिगों की सुरक्षा प्रदान करने के लिए चलाए जा रहे कार्यक्रम डेफेर्ड एक्शन फॉर चाइल्डहुड एराइवल्स (डीएसीए) को खत्म करने की घोषणा कर चुके हैं।

इस कार्यक्रम को पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने शुरू किया था। लेकिन ट्रंप ने इस कार्यक्रम को बंद करने का ऐलान किया था।

डीएसीए के तहत अमेरिका में कम उम्र के प्रवासियों को कानूनी अधिकार नहीं दिए जाते लेकिन वे निर्वासित होने से बच जाते हैं, ऐसे लोगों को अमेरिका में 'ड्रीमर्स' कहा जाता है।

यह भी पढ़ें: रिपब्लिकन सीनेटर ने कहा, अमेरिका को तीसरे विश्वयुद्ध की तरफ ले जा सकते हैं ट्रंप

First Published: Tuesday, October 10, 2017 04:38 AM

RELATED TAG: Donald Trump, Immigration Policy, America,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो