रैन्समवेयर अटैक: फ्रांस के रिसर्चर्स ने खोज निकाला बचाव का टूल

By   |  Updated On : May 20, 2017 12:47 PM
प्रतीकात्मक तस्वीर

प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली:  

फ्रांस के कुछ रिसर्चर्स ने वानाक्राइ रैन्समवेयर वायरस से बचाव के लिए एक टूल की खोच की है। रिसर्चर्स ने इस टूल का नाम वानाकीवी रखा है। टेक्निशियन्स इस टूल से विंडोज की फाइल्स को इन्सक्रिप्ट होने से बचा सकेंगे।

बता दें कि रैन्समवेयर वायरस की शुरुआत को हुई थी जिसके बाद अब तक इस वायरस ने दुनियाभर के करीब 3 लाख कंप्यूटर को अपना शिकार बनाया है। हैकर्स ने इस वायरस के लिए धमकी भी दी थी कि अगर उन्हें फिरौती की रकम में इजाफा नहीं किया गया तो रैन्समवेयर के शिकार कंप्यूटर्स को बंद कर दिया जाएगा।

हैकर्स के इस कॉल के बाद दुनियाभर के रिसर्चर्स इस वायरस से बचाव करने के प्रोग्राम की खोज में लग गए थे। समय निकल जाने पर इसे रिकवर नहीं किया जा सकता है।

और पढ़ें: दुनिया भर में हुए सायबर हमले के पीछे उत्तर कोरिया का हाथ!

रिसर्चर्स की टीम के सिक्युरिटी एक्सपर्ट एडरिन गुनेट ने इंटरनेशनल हैकर मैथ्यू सुसे और बेंजामिन डिप्ले के साथ मिलकर इस पर काम किया है। कई घंटों की कड़ी मेहनत के बाद वानाकीवी की खोज की जा सकी। यह एक फ्री टूल है जो कि वानाक्राइ से हार्म होने वाली फाइल्स को बचाएगा।

हालांकि यह टूल केवल उन कंप्यूटर्स पर ही काम करेगा जिन पर वानाक्राइ का शिकार होने के बाद या तो रीबूट ना किए गए हों या जिन्हें पूरी तरह से बंद नहीं किया गया है यह टूल उनपर ही काम करेगा।

और पढ़ें: सेक्स रैकेट में शामिल था बीजेपी लीडर, लड़कियों से जबरन करवाता था जिस्मफरोशी

रिपोर्ट्स के मुताबिक वानाकीवी विंडोज 7 या विंडोज के पुराने वर्जन जैसे विंडोज एक्सपी, विंडोज 2003, विंडोज 2008 और विंडोज विस्टा पर ही असर कर रहा है। रिसर्चर्स ने बताया कि इस टूल को बनाने के बाद उनसे पूरे विश्व की कई देशों की एजेंसियों ने उनसे बात की है।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

अन्य ख़बरे

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो