योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री मोदी को दी गोरखपुर हादसे की जानकारी, आला अधिकारियों की बुलाई बैठक

By   |  Updated On : August 12, 2017 08:43 PM
गोरखपुर के बीआरडी कॉलेज में मरे बच्चों के शोकाकुल परिजन (पीटीआई)

गोरखपुर के बीआरडी कॉलेज में मरे बच्चों के शोकाकुल परिजन (पीटीआई)

ख़ास बातें
  •  प्रधानमंत्री कार्यालय गोरखपुर हादसे की स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं
  •  राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री को हालात की जानकारी दी है
  •   इससे पहले पीएमओ ने ट्वीट कर हालात पर नजर बनाए जाने के बारे में जानकारी दी थी

नई दिल्ली :  

गोरखपुर के बाबा राघवदास मेडिकल कॉलेज (बीआरडी) में ऑक्सीजन की कमी की वजह से हुई 33 बच्चों की मौत को लेकर केंद्र सरकार हरकत में आ गया है। प्रधानमंत्री कार्यालय गोरखपुर की स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं।

33 बच्चों समेत कुल 63 लोगों की मौत को लेकर राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री को हालात की जानकारी दी है। इससे पहले पीएमओ ने ट्वीट कर हालात पर नजर बनाए जाने के बारे में जानकारी दी थी। योगी ने इस मामले को लेकर बुलाई थी। बैठक के बाद योगी ने मीडिया से तथ्यों को लेकर विशेष संवेदनशीलता बरतने की सलाह दी।

पीएमओ की तरफ से ट्वीट कर कहा गया है, 'प्रधानमंत्री लगातार गोरखपुर के हालात की निगरानी कर रहे हैं। वह केंद्र और यूपी सरकार के अधिकारियों के संपर्क में हैं।' गौरतलब है कि गोरखपुर हादसे के बाद विपक्षी दल उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के साथ केंद्रीय स्वास्थ मंत्री के इस्तीफे की मांग कर रहा है।

विपक्षी दलों की तरफ से बढ़ते दबाव को देखते हुए केंद्र सरकार ने स्वास्थ्य राज्य मंत्री अनुप्रिया पटेल और केंद्रीय गृह सचिव को हालात की निगरानी करने की जिम्मेदारी सौंपी है। अनुप्रिया पटेल उत्तर प्रदेश से आती हैं।

बच्चों की मौत के बाद गोरखपुर BRD मेडिकल कॉलेज के सुपरिटेंडेंट सस्पेंड

पटेल ने कहा, 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बेदह उदास हैं। हम जल्द गोरखपुर जाएंगे ताकि स्थिति की निगरान की जा सके।' मामले में कार्रवाई करते हुए योगी सरकार ने बीआरडी मेडिकल कॉलेज के सुपरिटेंडेंट को सस्पेंड कर दिया है। हालांकि कॉलेज के सुपरिटेंडेंट का कहना है कि उन्होंने निलंबन से पहले ही सरकार को अपना इस्तीफा सौंप दिया था।

हादसे पर पहली बार चुप्पी तोड़ते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जे पी नड्डा को बताया है कि सभी पहलुओं की जांच की जा रही है। वहीं नड्डा ने इस मामले में योगी को केंद्र सरकार की तरफ से सभी तरह के मदद दिए जाने का आश्वासन दिया है।

गंदगी और खुले में शौच करने से होती है इंसेफेलाइटिस- यूपी सीएम

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो