Breaking
  • प्रद्युम्न हत्या मामला: आरोपी बस कंडक्टर की जमानत पर फैसला कल तक के लिए सुरक्षित
  • गुजरात चुनाव 2017: बीजेपी ने जारी की 26 उम्मीदवारों की तीसरी सूची
  • वैष्णो देवी दर्शन के लिए नया रास्ता खोलने के NGT के निर्देश पर SC की रोक
  • CWC बैठक: 1 दिसंबर को कांग्रेस पार्टी के नए अध्यक्ष का ऐलान होगा
  • कालेधन पर बड़ी कामयाबी, स्विस सरकार भारत को देगी खातों की जानकारी (पढ़ें खबर) -Read More »

JNU के लापता छात्र नजीब अहमद मामले में CBI ने सौंपा पहला स्टेटस रिपोर्ट, जांच के लिए मांगा और समय

  |  Updated On : July 17, 2017 06:00 PM
नजीब अहमद (फाइल फोटो)

नजीब अहमद (फाइल फोटो)

ख़ास बातें
  •  जेएनयू का छात्र नजीब अहमद पिछले सात महीने से है लापता
  •  नजीब की मां ने दाखिल की थी हेबियस कोर्पस याचिका, सीबीआई ने जांच के लिए मांगा और समय
  •  पिछले महीने हाईकोर्ट ने दिल्ली पुलिस को फटकार लगाते हुए सीबीआई को सौंपा था मामला

नई दिल्ली :  

जवाहर लाल नेहरू (जेएनयू) के लापता छात्र नजीब अहमद के मामले में मां की ओर से दायर हेबियस कोर्पस याचिका पर सोमवार को सुनवाई के दौरान सीबीआई ने इस मामले में अपना पहला स्टेटस रिपोर्ट बंद लिफाफे में दिल्ली हाई कोर्ट को सौंप दिया।

सुनवाई के दौरान सीबीआई ने अपनी दलील में कहा कि उसके हाथ में इस मामले को आए बमुश्किल एक महीना ही हुआ है। सीबीआई ने कहा कि उसे जांच के लिए और अधिक समय चाहिए। मामले की अगली सुनवाई अब 8 अगस्त को होगी।

हेबियस कोर्पस (बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका) वह याचिका है जिसके बाद अदालत किसी व्यक्ति को पेश करने के आदेश दे सकती है। नजीब की मां ने इस याचिका के जरिए दिल्ली पुलिस और दिल्ली सरकार से अपने बेटे को कोर्ट में पेश करने की मांग की है।

यह भी पढ़ें: शशिकला को जेल में मिल रही सुविधाओं का खुलासा करने वाली DIG डी रूपा का ट्रैफिक विभाग में तबादला

जेएनयू में एमएससी प्रथम वर्ष का छात्र नजीब अहमद 14-15 अक्टूबर, 2016 की रात से ही जेएनयू छात्रावास से गुमशुदा है। इसी साल मई में दिल्ली हाईकोर्ट ने नजीब की रहस्यमयी गुमशुदगी का मामला सीबीआई को सौंपा था। इसके बाद 2 जून को सीबीआई ने इस मामले में एफआईआर दर्ज की थी।

यह भी पढ़ें: जीएसआई के वैज्ञानिकों ने भारतीय समुद्र में खोजे लाखों टन कीमती धातु और खनिज

नजीब अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के सदस्यों से कथित तौर झड़प के बाद से पिछले सात महीने से लापता है। वहीं, एबीवीपी ने मामले में अपनी संलिप्तता से इनकार किया है।

हाई कोर्ट ने मामले की जांच का जिम्मा सीबीआई को तब सौंपा था, जब दिल्ली पुलिस ने कहा कि उसने देश भर में नजीब की तलाशी के लिए मामले की निष्पक्ष तरीके से जांच की है, लेकिन उसके हाथ कोई सुराग नहीं लगा।

यह भी पढ़ें: सचिन तेंदुलकर, वसीम अकरम ही नहीं इन क्रिकेट कपल्स की उम्र में है बड़ा अंतर

RELATED TAG: Najeeb Ahmed, Jnu, Delhi High Court, Cbi,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो