Breaking
  • हरियाणा में रिलीज नहीं होगी फिल्म 'पद्मावत', खट्टर सरकार का फैसला
  • राजस्थान: PM मोदी ने रखी रिफाइनरी की नींव, कहा- अकाल और कांग्रेस जुड़वां भाई, पढ़ें पूरी खबर -Read More »
  • अमेठी पहुंचे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, लोगों से की मुलाकात
  • मीडिया के सामने भावुक हुए वीएचपी अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया, कहा- मेरे एनकाउंटर की साजिश रची गई
  • अटार्नी जनरल ने कहा ऐसा लगता है कि SC के जजों के बीच अभी सुलझा नहीं है विवाद, समय लग सकता है
  • 26/11 हमले में जिंदा बचे बेबी मोशे मुंबई पहुंचे
  • अहम सुनवाई के लिए बनी नई संवैधानिक पीठ में चारों जजों को नहीं मिली जगह, पढ़ें पूरी खबर -Read More »
  • अंडर-19 विश्व कप: भारत ने पापुआ न्यू गिनी को 10 विकेट से हराया
  • अमेठी:राहुल गांधी को राम और पीएम मोदी को रावण दिखाने वाले कांग्रेस नेता पर FIR दर्ज
  • पंजाब: बिजली और सिंचाई मंत्री राना गुरजीत सिंह ने अपना इस्तीफा दिया
  • श्रीलंका नेवी ने 16 भारतीय मछुआरों को हिरासत में लिया, 4 नाव जब्त
  • इजरायल के पीएम बेंजामिन नेतन्याहू आज जाएंगे आगरा, देखेंगे ताजमहल
  • मुंबई: कमला मिल्स आग मामले में पुलिस ने फरार आरोपी युग तुली को गिरफ्तार किया

9 हजार करोड़ की 'शत्रु' संपत्ति बेचेगी सरकार, दिए सर्वे के आदेश

  |  Updated On : January 14, 2018 03:01 PM
गृहमंत्री राजनाथ सिंह (फाइल फोटो)

गृहमंत्री राजनाथ सिंह (फाइल फोटो)

New Delhi:  

भारत सरकार पूरे देश में करीब 1 लाख करोड़ रुपये से अधिक की कीमत की 9,400 शत्रु संपत्तियों की बोली लगाने की तैयारी कर रही है। अधिकारियों ने बताया कि गृह मंत्रालय ने ऐसी संपत्तियों की पहचना करना शुरू कर दिया है।

बता दें कि चीन और पाकिस्तान की नागरिकता के लिए जाने वाले लोगों की संपत्ति को शत्रु संपत्ति कहा जाता है। 49 साल पुराने शत्रु संपत्ति अधिनियम में संशोधन के बाद सरकार यह कदम उठाने जा रही है।

इस कानून में इस बात का स्पष्ट जिक्र है कि जो लोग विभाजव के दौरान या उसके बाद पाकिस्तान और चीन जाकर रहने लगे हैं, उन लोगों का उनकी संपत्तियों पर कोई हक नहीं है। इन्हें वारिस अधिकार से बाहर रखा गया है।

और पढ़ें: अमेरिका के हवाई में गलती से जारी हो गया बैलेस्टिक मिसाइल का अलर्ट

गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया, 'हाल ही में गृहमंत्री को मीटिंग के दौरान इस बात की जानकारी दी गई थी जिसमें कहा गया था कि सर्वे में अबतक कुल 6,289 संपत्तियों का पता लगाया जा चुका है, वहीं करीब 2,991 संपत्तियों का सर्वे किया जा रहा है।'

इस जानकारी के बाद ने आदेश दिया कि ऐसी संपत्तियों जिनमें कोई रह नहीं रहा है उन्हें खाली करवाया जाए, ताकि उनकी उचित बोली लगाई जा सके।

एक अधिकारी ने बताया कि इस पोपर्टीज में सबसे ज्यादा करीब 4,991 केवल उत्तर प्रदेश में ही हैं।

और पढ़ें: पाकिस्तान ने भारत को दी परमाणु हमले की धमकी

RELATED TAG: Govt Plan, Modi Govt, Auction, Enemy Properties, Rs 1 Lakh Crore,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो