अनियमित दिल की धड़कन को पहचानेगा Smartphone App,जानें इसकी खासियत

वैज्ञानिकों ने एक स्मार्टफोन एप्लीकेशन विकसित किया है, जो एट्रियल फाइब्रिलेशन की जांच करने में मदद कर सकता है। एट्रियल फाइब्रिलेशन दिल की धड़कन का सबसे आम विकार है।

  |   Updated On : August 27, 2018 11:02 AM
अनियमित दिल की धड़कन को पहचानेगा स्मार्टफोन एप (सांकेतिक चित्र)

अनियमित दिल की धड़कन को पहचानेगा स्मार्टफोन एप (सांकेतिक चित्र)

लंदन:  

वैज्ञानिकों ने एक स्मार्टफोन एप्लीकेशन विकसित किया है, जो एट्रियल फाइब्रिलेशन की जांच करने में मदद कर सकता है। एट्रियल फाइब्रिलेशन दिल की धड़कन का सबसे आम विकार है। इस विकार की वजह से दिल की धड़कन अनियमित हो जाती है और अक्सर बढ़ जाती है, जिससे आम तौर पर रक्त प्रवाह कम हो जाता है। सभी तरह के स्ट्रोक के होने के पीछे 20-30 फीसदी यही वजह होती है। यह समय पूर्व मौत का जोखिम बढ़ा देता है।

नया एप दिल की धड़कन, सांस फूंलने, थकान आदि लक्षणों का इस्तेमाल कर दिल की धड़कन को मापता है।

इसका इस्तेमाल स्मार्टफोन कैमरा के सामने एक मिनट तक बाईं तर्जनी उंगली को दबाकर किया जा सकता है।

शोधकर्ताओं का कहना है कि यह एप स्वचालित रूप से एक रिपोर्ट देता है, जिसमें दिल की धड़कन की एक प्रति के साथ, उसके बारे में जानकारी भी रहती है।

और पढ़ें: नई टेक्नोलोजी कैंसर के इलाज का दुष्प्रभाव घटाने में मददगार

बेल्जियम के हेस्सेल्ट विश्वविद्यालय के प्रोफेसर व मुख्य अनुसंधानकर्ता पीटर वांडरवोर्ट ने कहा, 'ज्यादातर लोगों के पास एक कैमरे वाला स्मार्टफोन है, जिसकी एट्रियल फाइब्रिलेशन की जांच के लिए जरूरत होती है। एट्रियल फाइब्रिलेशन की स्थिति की हजारों लोगों में जांच का यह कम कीमत वाला तरीका है। यह स्थिति तेजी से फैल रही है और इसका इलाज नहीं किया गया तो गंभीर परिणाम होंगे।'

First Published: Monday, August 27, 2018 10:50 AM

RELATED TAG: Heart Beat, Smartphone, Smartphone App, Heart,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो