Breaking
  • सुरक्षा बलों ने बारामुला के पट्टन इलाके में सर्च ऑपरेशन किया लॉन्च
  • पाकिस्तान सरकार ने जाधव की पत्नी और मां के वीजा को किया मंजूर
  • कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पार्टी सांसद और पद अधिकारियों को दिया डिनर का न्योता
  • मध्यप्रदेश: कांग्रेस नेता कमल नाथ पर बंदूक तानने वाले पुलिस कांस्टेबल के खिलाफ FIR दर्ज
  • अमृतसर, जालंधर और पटियाला की 32 नगर परिषदों और नगर पंचायतों पर मतदान हुआ शुरू
  • गुजरात चुनाव: आज 6 बूथों पर फिर से होगा मतदान

राहुल गांधी का पीएम मोदी से सवाल, निजी कंपनियों से मंहगी बिजली क्यों खरीदी?

  |  Updated On : December 01, 2017 05:39 PM
राहुल गांधी (फाइल फोटो)

राहुल गांधी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी के वादे और उसकी हक़ीकत की पड़ताल सीरीज़ '22 सालों का हिसाब, गुजरात मांगे जवाब' में शुक्रवार को तीसरे दिन ऊंची दरों पर बिजली खरीदने के आरोप लगाते हुए धावा बोला है।

आज (शुक्रवार) के सवाल में राहुल गांधी ने पीएम मोदी से पूछा है कि निजी कंपनियों से ऊंची दरों पर बिजली खरीदकर जनता की कमाई, क्यों लुटाई गई?

राहुल गांधी ने पूछा, 'गुजरात में 2002 से 2016 के बीच 62,549 करोड़ रुपये की बिजली ख़रीदकर चार निजी कंपनियों की जेब क्यों भरी गई?'

उन्होंने ट्विटर पर लिखा, 'प्रधानमंत्रीजी से तीसरा सवाल: 2002-16 के बीच 62,549 Cr रुपये की बिजली ख़रीद कर 4 निजी कंपनियों की जेब क्यों भरी? सरकारी बिजली कारख़ानों की क्षमता 62% घटाई पर निजी कम्पनी से 3 रुपये/यूनिट की बिजली 24 रुपये तक क्यों ख़रीदी? जनता की कमाई, क्यों लुटाई?’

बता दें कि राहुल गांधी ने बुधवार (29 नवम्बर) से ट्विटर पर '22 सालों का हिसाब, गुजरात मांगे जवाब' नाम से पड़ताल कैंपेन शुरू किया है।

राहुल गांधी का पीएम मोदी से सवाल, आपके प्रचार अभियान का बोझ गुजराती क्यों उठाए?

राहुल गांधी ने अपने पहले सवाल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को साल 2012 के विधानसभा चुनाव के समय का वादा की याद दिलाते हुए पूछा था, '2012 में वादा किया कि 50 लाख नए घर देंगे... 5 साल में बनाए 4.72 लाख घर... प्रधानमंत्री जी, बताइए कि क्या यह वादा पूरा होने में 45 साल और लगेंगे...?'

वहीं दूसरे सवाल में राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पूछा कि पीएम मोदी के प्रचार अभियान के लिए गुजरात का आम आदमी पैसा क्यों भरे।

उन्होंने लिखा, '1995 में गुजरात पर कर्ज़ 9,183 करोड़ था। वहीं 2017 में कर्ज़ बढ़कर 2,41,000 करोड़ हो गया है। यानी हर गुजराती पर 37,000 रुपये का कर्ज़ है।'

बता दें कि गुजरात चुनाव के मद्देनजर पीएम मोदी और राहुल गांधी के बीच आरोप प्रत्यारोप का सिलसिला जारी है।

गुजरात चुनाव: राहुल गांधी ने पीएम मोदी के वादों की पड़ताल के लिए ट्विटर पर शुरू किया कैंपेन

RELATED TAG: Rahul Gandhi, Pm Narendra Modi, Gujarat Assembly Elections, Twitter Campaign,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो