Breaking
  • सीबीएसई की कक्षा 12वीं का परिणाम हुआ घोषित
  • आज 2 बजे से 5 बजे के बीच मुंबई एयरपोर्ट का मेन रनवे बंद रहेगा
  • बिहार सरकार ने निपाह वायरस से बचने के लिए जारी की एडवायजरी
  • लोगों ने माना 2019 में मोदी फिर बनेंगे पीएम, लेकिन लोकप्रियता में आई कमी : सर्वे -Read More »
  • जम्मू-कश्मीर: तंगधार में सेना से मुठभेड़ में पांच आतंकी ढेर, ऑपरेशन जारी, पढ़ें पूरी खबर -Read More »

सभी क्षेत्रों के विकास के लिए नीति तैयार कर रही है सरकार: सुरेश प्रभु

  |   Updated On : December 01, 2017 11:39 PM
सुरेश प्रभु, वाणिज्य मंत्री (पीटीआई)

सुरेश प्रभु, वाणिज्य मंत्री (पीटीआई)

नई दिल्ली:  

सरकार विभिन्न क्षेत्रों के लिए नीतियां तैयार कर रही है, ताकि वे अपने व्यवसाय को बढ़ाने में सक्षम हो सकें। इससे देश की कुल जीडीपी (सकल घरेलू उत्पाद) में बढ़ोतरी होगी। वाणिज्य मंत्री सुरेश प्रभु ने शुक्रवार को यह बात कही।

भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) द्वारा यहां आयोजित राष्ट्रीय खुदरा सम्मेलन को संबोधित करते हुए प्रभु ने कहा कि हाल के दिनों में वह इस संबंध में फार्मा, आईटी, स्वर्ण और आभूषण, और खुदरा कारोबार क्षेत्र के हितधारकों से परामर्श कर रहे थे। 

उन्होंने कहा, 'हम अर्थव्यवस्था के सभी क्षेत्र के लिए नीतियां तैयार करने के काम में जुटे हैं कि किस तरह से उनका कारोबार और बाजार बढ़ाया जाए।'

प्रभु ने कहा, 'अगर हर क्षेत्र में बढ़ोतरी होती है तो उनका प्रभाव हमारे जीडीपी पर पड़ेगा और उसमें भी बढ़ोतरी होगी।'

जेटली का राहुल पर निशाना, कहा- एक जीएसटी दर का विचार मूर्खतापूर्ण

उन्होंने कहा, 'हम प्रत्येक क्षेत्र की सहायता करने के तरीकों की पहचान करने की प्रक्रिया में हैं। वाणिज्य मंत्री के रूप में मेरी जिम्मेदारी है कि कोई भी कारोबार बढ़ना चाहिए.. इससे देश की जीडीपी बढ़ेगी।'

प्रभु ने कहा कि खुदरा क्षेत्र सभी क्षेत्रों -कृषि, विनिर्माण, सेवा- का आधार है और यह केवल आर्थिक जीवन के अन्य क्षेत्रों के साथ साझेदारी में ही पनप सकता है। 
उन्होंने कहा, 'अगर हम भारत में अच्छी आपूर्ति श्रृंखला तैयार कर लें, तो इससे ग्राहकों को काफी फायदा होगा।' 

नोटबंदी और GST के झटके से उबरी अर्थव्यवस्था, 2017-18 की दूसरी तिमाही में 6.3% हुई GDP

प्रभु ने कहा कि देश की 30 फीसदी फल और सब्जियां उचित भंडारण सुविधाओं की कमी के कारण बेकार हो जाती हैं। 

प्रभु ने यह भी कहा कि ई-कॉमर्स बाजार में एक नया आयाम है। उन्होंने कहा, 'अगर हम ई-कॉमर्स के लिए मंच तैयार करते हैं.. तो इससे व्यवसाय और रोजगार का विस्तार होगा और नए अवसर पैदा होंगे।'

GDP सुधार से खुश IMF, करेगा विकास अनुमान में बदलाव

RELATED TAG: Suresh Prabhu, Gdp, Economy, Jewellery Exports, Gst Tax Regime,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो