BREAKING NEWS
  • कमलेश तिवारी की पोस्टमार्टम रिपोर्ट से बड़ा खुलासा, हत्यारों ने 15 बार चाकू से वार किया था- Read More »
  • अवैध रूप से मीट बेचने के आरोप में कांग्रेस पार्षद समेत 3 लोग गिरफ्तार- Read More »
  • सौरव गांगुली (Saurav Ganguly) आज BCCI के 39वें अध्‍यक्ष बनेंगे, खत्‍म होगा COA का शासन- Read More »

Texas: अमेरिका में भूख हड़ताल पर बैठे तीन लोगों को जबरन चढाई गई ड्रिप्स

News State Bureau  |   Updated On : August 13, 2019 10:59:39 AM

(Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  अमेरिका में तीन शर्णार्थियों को चढ़ाई गई ड्रिप्स. 
  •  12 दिन से भूख हड़ताल पर बैठे हुए थे 3 भारतीय. 
  •  इस साल में दूसरी बार हुआ है कि भारतीयों ने एल पासो हिरासत केंद्र में भूख हड़ताल की.

टेक्सास:  

अमेरिका (America) में शरण की तलाश में गए तीन भारतीय व्यक्तियों को टेक्सास के एल पासो में बने यूएस इमिग्रेशन एंड कस्टम्स इंफोर्समेंट केंद्र (US Immigration and Customs Enforcement Department) में रविवार को नसों के जरिए जबरन ड्रिप्स (IV Drip) चढ़ाई गईं। इन भारतीयों की वकील ने बताया कि ये लोग 12 दिन से भूख हड़ताल पर बैठे हुए थे।

ये तीनों इस मांग के साथ नौ जुलाई को आईसीई हिरासत केंद्र में अनशन पर बैठ गए थे कि जब तक वे अपने निर्वासन के संबंध में आदेश प्राप्त करते हैं तब के लिए उन्हें रिहा किया जाए. 

यह भी पढ़ें: Independence Day Special: भारत के साथ-साथ इन 4 देशों के लिए भी खास है 15 अगस्त का दिन, जानें क्यों

इन तीनों की वकील लिंडा कोरचाडो ने बताया कि ये शरण मांगने यहां आए थे जिनके आवेदन को ठुकरा दिया गया और ये अपने आवेदनों पर पुनर्विचार की मांग कर रहे हैं। मीडिया में आई खबर के मुताबिक ये तीनों कई महीनों से हिरासत केंद्र में बंद हैं जबकि इनमें से एक को हिरासत में बंद हुए एक साल से भी ज्यादा हो गया है। न्याय मंत्रालय ने पिछले हफ्ते संघीय न्यायाधीशों के समक्ष आवेदन दायर कर तीनों की सहमति के बिना ही इन्हें खाना खिलाने या पानी चढ़ाने की मांग की थी।

वकीलों एवं अधिकार कार्यकर्ताओं का कहना है कि वे इस बात से चिंतित है कि अगले कदम के तहत इन्हें जबरन खाना खिलाया जाएगा।

यह भी पढ़ें: कश्मीर में ऑर्टिकल 370 खत्म होने के मामले पर मलाला से भिड़ीं वीना मलिक

कोरचाडो ने कहा कि मेरे मुवक्किलों ने लंबे समय से हिरासत में रखे जाने और उनके आवेदनों के प्रति आव्रजन अदालत के पक्षपाती एवं भेदभावपूर्ण रवैये के खिलाफ अनशन करने का निर्णय लिया।

उन्होंने कहा कि एक साल से ज्यादा वक्त हिरासत में बिताने के बाद और आगे भी इसके खत्म होने की कोई उम्मीद नहीं नजर आने पर इन लोगों के पास अपनी व्यथा और अनुचित आव्रजन कार्रवाइयों की तरफ ध्यान दिलाने का कोई और रास्ता नहीं बचा था।

यह इस साल में दूसरी बार हुआ है कि भारतीयों ने एल पासो हिरासत केंद्र में भूख हड़ताल की।

First Published: Aug 13, 2019 10:59:39 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो