BREAKING NEWS
  • CBI की पूछताछ से लेकर कोर्ट तक चिदंबरम मामले की 15 बड़ी बातें- Read More »
  • योगी मंत्रिमंडल में हुआ विभागों का बंटवारा, जानें किसे मिला कौन सा मंत्रालय- Read More »
  • PAK को भारत के साथ कारोबार बंद करना पड़ा भारी, अब इन चीजों के लिए चुकाने पड़ेंगे 35% ज्यादा दाम- Read More »

आखिर उसने क्‍यों कहा, 'मैं सऊदी अरब वापस नहीं जाऊंगी, घरवाले मेरा कत्‍ल कर देंगे'

ANI  |   Updated On : January 16, 2019 02:02 PM
रहाफ मुहम्मद अलकुनान (Rahaf Mohammed) (ANI)

रहाफ मुहम्मद अलकुनान (Rahaf Mohammed) (ANI)

नई दिल्‍ली:  

अपने परिवार से बचने के लिए एक 18 साल की लड़की कुवैत से थाईलैंड के लिए उड़ान भरती है. लेकिन थाईलैंड प्रशासन पुलिस ने उसे बैकॉक हवाईअड्डे पर रोक लेती है और उसको प्रवेश करने से मना कर कर उसका पासपोर्ट जब्त कर लेती है. इसके बाद वह खुद को एयरपोर्ट के होटल के एक कमरे में बंद करती है और Tweeter के जरिए कैंपेन शुरू कर दुनिया की नजरों में आ जाती है.

यह कहानी है 18 साल की रहाफ मुहम्मद अलकुनान (Rahaf Mohammed) की. उसका कहना है कि उसे डर है कि वे उसे मार देंगे क्योंकि उसने इस्लाम त्याग दिया है.  सऊदी अरब से भागकर थाईलैंड होते हुए कनाडा पहुंचने वाली 18 साल की रहाफ मुहम्मद अलकुनान (Rahaf Mohammed) ने कहा कि उसके पिता शारीरिक तौर पर उसका शोषण करते हैं और जबरन उसका निकाह करवा कर रहे हैं.  

कनाडा ने इस मामले में पहल करते हुए रहाफ मुहम्मद को अपने देश में शरण दी. कनाडा की विदेश मंत्री क्रिस्टिया फ्रीलैंड ने कहा, 'बहादुर रहाफ अलकुनान अब कनाडा की नागरिक हैं. ' इससे पहले कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रुडो ने रहाफ को शरण देने की घोषणा की थी.

दरअसल कुनान ने अपने परिवार से बचने के लिए कुवैत से थाईलैंड के लिए उड़ान भरी थी, उसका कहना था कि उसे डर है कि वे उसे मार देंगे क्योंकि उसने इस्लाम त्याग दिया है. बीते शनिवार को थाईलैंड प्रशासन पुलिस ने उन्हें बैकॉक हवाईअड्डे पर रोक लिया था और उन्होंने अलकुनान को प्रवेश करने से मना कर दिया और उनका पासपोर्ट जब्त कर दिया था.

इसके बाद अलकुनान ने खुद को एयरपोर्ट के होटल के एक कमरे में बंद कर लिया था और वहीं से ट्विटर के जरिए कैंपेन शुरू किया, जिससे दुनियाभर की नजरों में यह मामला आया था. कुनान ने कहा कि उसके पिता शारीरिक तौर पर उसका शोषण करते हैं और जबरन उसका निकाह करवा कर रहे हैं. हालांकि, उसके पिता ने इस तरह के आरोपों का खंडन किया था.

यह भी पढ़ेः खुदाई में मिला हड़प्पा काल में दफन 'प्रेमी जोड़े' का कंकाल, दोनों को दफनाया गया था एक-साथ

कनाडा ने इस मामले में पहल करते हुए रहाफ मुहम्मद को अपने देश में शरण दी. कनाडा की विदेश मंत्री क्रिस्टिया फ्रीलैंड ने बताया कि कनाडा में रहाफ के ठहरने की व्यवस्था आव्रजन सेवा की निदेशक मारियो कैला देख रही हैं. रहाफ को सबसे पहले आवास और स्वास्थ्य कार्ड मुहैया कराया जाएगा.

यह भी पढ़ेंः लड़की ने फ्लाइट में लिखा लव लेटर, सोशल मीडिया पर हुआ वायरल, हजारों लोगों ने किया शेयर

रहाफ मुहम्मद कनाडा सरकार के इस फैसले पर खासी खुश दिखी और उन्होंने प्रेस से बात करते हुए कहा कि वो अपने आप को Lucky Ones मानती है. बताया जा रहा कि रहाफ मुहम्मद सऊदी में बेहद परेशान थी और उन्होंने शारीरिक शोषण का आरोप अपने पिता पर लगाया था. कयास है कि रहाफ मुहम्मद अलकुनान को शरण देने से कनाडा और सऊदी अरब के रिश्ते और खराब हो सकते हैं.

First Published: Wednesday, January 16, 2019 01:54:58 PM
Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

RELATED TAG: Rahaf Mohammed, Islam, Kanada, Lucky Ones, Saudi,

डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Live Scorecard

न्यूज़ फीचर

वीडियो