मुसीबत में घिरे नवाज शरीफ, जजों के अपमान के मामले में कोर्ट ने भेजा नोटिस

News State Bureau  |   Updated On : August 16, 2017 11:42:44 AM
पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ (फाइल फोटो)

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ (फाइल फोटो) (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री पद से हटने के बाद नवाज शरीफ की मुश्किलें बढ़ती जा रही है। एक अदालत ने सुप्रीम कोर्ट के जजों का अपमान करने के मामले में शरीफ और पाकिस्तान मुस्लिम लीग (नवाज) के 13 अन्य नेताओं को नोटिस जारी किया है।

एक याचिका दायर कर कहा गया है कि इस्लामाबाद से लाहौर तक अपनी चार दिन की होमकमिंग रैली में शरीफ ने सुप्रीम कोर्ट के पांच जजों पर मौखिक रूप से हमला बोला

याचिकाकर्ता के वकील अजहर सिद्दीकी ने लाहौर हाईकोर्ट में याचिका दायर कर इस बात की जानकारी दी। याचिकार्ता के मुताबिक शरीफ ने पनामा पेपर्स मामले में उन्हें अयोग्य करार दिए जाने वाले जजों पर हमला बोला था।

याचिका में कहा गया है, 'शरीफ और उनके खास लोगों ने इस्लामाबाद से लाहौर के रास्ते में कई जगहों पर न्यायपालिका विरोधी भाषण दिए और जजों का मजाक उड़ाया। उन्होंने न केवल जजों का अपमान किया बल्कि न्यायपालिका पर निशाना साधा और उसे अपूरणीय क्षति पहुंचाई।'

इसे भी पढ़ेंः अमेरिकी रिपोर्ट में हुआ खुलासा, पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों पर है खतरा

याचिकाकर्ता ने मांग करते हुए कहा है, 'नवाज और अन्य लोगों ने अदालत की अवमानना की। उन पर अपने भाषणों में कोर्ट और सेना की छवि खराब करने के मामले में देशद्रोह के आरोपों में भी मुकदमा चलना चाहिए।'

लाहौर हाईकोर्ट ने याचिका को स्वीकार करते हुए शरीफ और ख्वाजा आसिफ, साद रफीक, तलाल चौधरी और डेनियल अजीज समेत संघीय मंत्रियों को नोटिस जारी किया है। इस मुद्दे पर अगली सुनवाई की अगली तारीख 25 अगस्त तक जवाब देने को कहा।

सभी राज्यों की खबरों को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

First Published: Aug 16, 2017 09:12:07 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो