BREAKING NEWS
  • जब विराट कोहली को लगा कि उनकी दुनिया ही खत्‍म हो गई, यह उन दिनों की बात है- Read More »
  • फिल्म 'पानीपत' के बहाने RSS को ये क्‍या कह गए पाकिस्तान के मंत्री फवाद चौधरी- Read More »
  • Petrol Rate Today 14 Nov 2019: पेट्रोल के रेट में भारी बढ़ोतरी, डीजल में कोई बदलाव नहीं- Read More »

बड़बोले इमरान खान ने बाबरी मस्जिद का मुद्दा उठाया, सिंध में तोड़े जा रहे मंदिर पर साधी चुप्पी

आईएएनएस  |   Updated On : October 17, 2019 06:23:41 PM
पाकिस्तान के पीएम इमरान खान

पाकिस्तान के पीएम इमरान खान (Photo Credit : (फाइल फोटो) )

नई दिल्ली:  

भारत के अंदरूनी मामलों में प्रत्यक्ष रूप से दखल देते हुए पाकिस्तान ने बाबरी मस्जिद का मुद्दा उठाया है, लेकिन उन्हें सिंध में तोड़े जा रहे मंदिर नहीं दिख रहे हैं. पाकिस्तान ने कहा है कि उसे आशा है कि इस मामले के फैसले में भारतीय मुसलमानों की भावनाओं को ध्यान में रखा जाएगा. पाकिस्तान ने यह भी कहा है कि नदियों के पानी के प्रवाह को रोकने की भारत की किसी भी कोशिश को वह एक 'आक्रामक कार्रवाई' के रूप में देखेगा.

यह भी पढ़ेंः भारत-बांग्लादेश सीमा पर बांग्लादेशी सेना ने की गोलीबारी, BSF का जवान शहीद; दूसरा घायल

पाकिस्तानी मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता डॉ. मोहम्मद फैसल ने साप्ताहिक प्रेस ब्रीफिंग में गुरुवार को कहा कि बाबरी मस्जिद का मामला बेहद संवेदनशील मामला है. उम्मीद है कि इस मामले में भारतीय मुसलमानों की इच्छाओं के अनुरूप फैसला आएगा. भारतीय अल्पसंख्यकों को उनका अधिकार मिलना चाहिए.

प्रवक्ता ने कहा कि तीन पश्चिमी नदियों पर पाकिस्तान का 'अखंडित अधिकार' है और इनके पानी के प्रवाह को मोड़ने की किसी भी कोशिश को पाकिस्तान एक 'आक्रामक कार्रवाई' के रूप में देखेगा और उसके पास 'इसका जवाब देने का अधिकार होगा.'

यह भी पढ़ेंः पाकिस्तान के F-16 लड़ाकू विमान ने भारतीय यात्री विमान को घेरा था, फिर जानें क्या हुआ...

प्रवक्ता ने यह बात भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा इन नदियों का पानी पाकिस्तान जाने से रोकने के लिए दिए गए बयान पर पूछे गए एक सवाल के जवाब में कही. प्रवक्ता ने कहा कि नदियों के पानी का बहाव इस मामले पर हुए समझौतों के अनुसार जारी रखा जाना चाहिए.

फैसल ने कश्मीर मुद्दे पर भी बात रखी और कहा, "पांच अगस्त का फैसला (जम्मू-कश्मीर को मिले विशेष दर्जे को समाप्त करना) भारत को एक बंद गली में ले गया है जहां से उसे वापसी का रास्ता नहीं मिल रहा है. उसकी पीठ दीवार से लग गई है, वह अकेला पड़ गया है और समझ नहीं पा रहा है कि वह इससे बाहर कैसे निकले."

First Published: Oct 17, 2019 06:23:41 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो