अब Pakistan जम्मू कश्मीर को लेकर करने जा रहा नई नौटंकी, जानिए क्या है उसकी ये नई चाल

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : September 14, 2019 09:59:07 AM
अब पाकिस्तान जम्मू कश्मीर को लेकर करने जा रहा नई नौटंकी

अब पाकिस्तान जम्मू कश्मीर को लेकर करने जा रहा नई नौटंकी (Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान आज मुजफ्फराबाद में करने वाले हैं जलसा. 
  •  इस जलसे में कश्मीर को लेकर करेंगे बड़े ऐलान. 
  •  भारत प्रशासित कश्मीर और भारतीय फौज पर कर सकते हैं बड़ी बयानबाजी.

इस्लामाबाद:  

Pakistan On Jammu Kashmir: जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) में आर्टिकल-370 (Article -370) हटाए जाने के मुद्दे पर दुनियाभर (World) के सामने अपनी नाक कटवा चुके पाकिस्तान (Pakistan) में बौखलाहट साफ दिखाई दे रही है. कश्मीर के मसले पर दुनिया के सामने शर्मसार हो चुके पाकिस्तान के बौखलाए प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) आज पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (PoK) में बड़ा ऐलान करने जा रहे हैं.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इमरान पीओके की राजधानी मुजफ्फराबाद (Muzaffarabad) में सार्वजनिक संबोधन के दौरान कश्मीर (पाक के कब्जे वाले) को लेकर ‘नीतिगत बयान’ देंगे.

यह भी पढ़ें: इमरान खान के पीओके में 'जलसे' से पहले भारत का आक्रामक रुख

पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने ट्विटर पर दो दिन पहले Tweet कर बता दिया था कि वो आगामी 13 सितंबर को पीओके के मुज़फ़्फ़राबाद में एक बड़ी रैली करेंगे, जिसका मकसद कश्‍मीर में भारतीय सुरक्षाबलों द्वारा लगातार की जा रही घेराबंदी को लेकर संदेश देना है.

वहीं गुरुवार को साप्ताहिक संवाददाता सम्मेलन के दौरान विदेश कार्यालय प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने कहा कि पाकिस्तान जम्मू कश्मीर के मुद्दे पर किसी भी तीसरे पक्ष की मध्यस्थता के लिए तैयार है और इस मामले की वैधता अंतरराष्ट्रीय कानून पर आधारित है.

यह भी पढ़ें: कश्मीर मुद्दे पर UN में मुंह की खाने के बाद भी पाकिस्तान के राष्ट्रपति ने इमरान खान की पीठ थपथपाई

मोहम्मद फैसल ने कहा, मध्यस्थता की पेशकश (कश्मीर पर) मौजूद है लेकिन भारत तैयार नहीं है. हम इसके लिए तैयार हैं. हमारा ठोस विचार यह है कि सभी समस्याओं को बातचीत के जरिए सुलझाया जा सकता है. फैसल ने कहा कि प्रधानमंत्री इमरान खान शुक्रवार को मुजफ्फराबाद में अपने संबोधन में कश्मीर पर नीतिगत बयान देंगे.

बता दें कि 5 अगस्त को भारत की केंद्र सरकार ने जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 और 35-ए को हटा दिया था जिसके बाद जम्मू कश्मीर से लद्दाख को अलग कर दिया गया था और जम्मू कश्मीर और लद्दाख दोनों को ही केंद्र शासित प्रदेश घोषित कर दिया गया था जिसके बाद से ही पाकिस्तान हर मंच पर जम्मू कश्मीर में लोगों के ऊपर जुल्म होने का भारत पर इल्जाम लगाता रहा है. हालांकि हर मंच पर उसे मुंह की खानी पड़ी है और सारे बड़े देशों ने ये ही माना है कि जम्मू कश्मीर भारत का आंतरिक मुद्दा है.

First Published: Sep 13, 2019 06:43:02 AM
Post Comment (+)

Live Scorecard

न्यूज़ फीचर

वीडियो