BREAKING NEWS
  • अयोध्‍या मामले में सुप्रीम कोर्ट ने तय की डेडलाइन, 18 अक्‍टूबर तक बहस पूरी करने को कहा- Read More »
  • शिवपाल सिंह यादव का बड़ा एलान, अगर विधानसभा से सदस्यता खत्म हुई तो लड़ूंगा उपचुनाव- Read More »

इमरान खान के फिर बिगड़े बोल, कहा-मोदी सरकार में भारतीय परमाणु जखीरा सुरक्षित नहीं

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : August 18, 2019 05:24:41 PM
बौखला गए हैं पाकिस्तान के पीएम इमरान खान.

बौखला गए हैं पाकिस्तान के पीएम इमरान खान.

ख़ास बातें

  •  रविवार को पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने किए कई ट्वीट्स.
  •  मोदी सरकार की तुलना नाजी आधिपत्य से कर गिड़गिड़ाए दुनिया से.
  •  मुसलमानों के नरसंहार का फर्जी आरोप जड़ा अपने ट्वीट में.

नई दिल्ली.:  

केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के परमाणु हथियारों के संदर्भ में 'पहले इस्तेमाल नहीं' नीति में बदलाव के संकेत देते बयान के दो दिन बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने चिंता जाहिर की है. रविवार को किए गए कई ट्वीट्स में उन्होंने आरोप लगाया है कि 'फासीवादी नस्लीय हिंदू श्रेष्ठि' बोध वाली नरेंद्र मोदी सरकार में 'भारतीय परमाणु हथियारों का जखीरा सुरक्षित और संरक्षित' नहीं है. इस बाबत चिंता जाहिर करते हुए पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने अंतरराष्ट्रीय समुदाय से इस ओर गंभीरता से ध्यान देने का आह्वान किया है. उन्होंने कहा है कि आज का भारत नेहरू-गांधी का भारत नहीं है. साथ ही कहा है कि कश्मीर में जो चल रहा है उसकी आग आने वाले दिनों में पाकिस्तान को भी अपनी लपेट में लेगी.

यह भी पढ़ेंः PoK में हैं हिंदू, सिख और बौद्धों के करीब 600 तीर्थस्थल, 5000 साल पुराना शारदा पीठ भी वहीं है

फिर गिड़गिड़ाए इमरान खान
इमरान खान का ट्वीट के जरिये यह बयान पाकिस्तानी सेना के उस बयान से ठीक एक दिन बाद आया है, जिसमें पाक सेना ने आशंका जाहिर की थी कि कश्मीर से वैश्विक बिरादरी का ध्यान बंटाने के लिए भारत पाकिस्तान पर हमला कर सकता है. पाकिस्तान सेना ने कहा था कि जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा हटाने के बाद कश्मीर एक बार फिर से दोनों देशों के बीच विद्यमान विवाद के केंद्र में आ गया है. रविवार को कई टि्वीट कर इमरान खान ने एक बार फिर कश्मीर मसले का अंतरराष्ट्रीयकरण करने की कोशिश की है.

यह भी पढ़ेंः जम्मू के 5 जिलों में इंटरनेट सेवाएं फिर बंद, श्रीनगर में छिटपुट हिंसा बाद प्रतिबंध जारी

मोदी सरकार की नाजी आधिपत्य से की तुलना
पाकिस्तान प्रधानमंत्री इमरान खान ने भारत की मोदी सरकार की नाजी आधिपत्य से तुलना करते हुए कहा, 'जिस तरह जर्मनी पर नाजियों ने कब्जा कर लिया था. ठीक वैसे ही फासीवादी और नस्लभेदी हिंदू श्रेष्ठि बोध वाली सरकार और नेतृत्व ने भारत पर कब्जा कर लिया है. इस कारण 90 लाख कश्मीरी बीते दो हफ्तों से बंधक बना कर रखे गए है. कश्मीरियों की इस स्थिति को लेकर वैश्विक बिरादरी को गंभीरता दिखानी होगी. साथ ही वक्ती जरूरत के तहत कश्मीरियों की सुरक्षा के लिए संयुक्त राष्ट्र पर्यवेक्षक को वहां भेजने की जरूरत आन पड़ी है.

यह भी पढ़ेंः पं. नेहरू की गलती से लद्दाख में घुसा चीन, नामग्याल का कांग्रेस पर बड़ा हमला

'नफरत और नरसंहार ही कर रही बीजेपी सरकार'
यही नहीं, अपनी ट्वीट में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पर निशाना साधते हुए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने लिखा है कि आरएसएस-बीजेपी विचारधारा किस तरह एक खास नस्ल के सफाये के लिए काम कर रही है, इसे जानने के लिए गूगल की मदद ली जा सकती है. गूगल से स्पष्ट हो जाएगा कि नाजी विचारधारा और आरएसएस-बीजेपी विचारधारा में क्या साम्य है. इमरान खान आगे लिखते हैं, 'पहले से ही 40 लाख मुसलमान नागरिकता खो कर सेना के शिविरों में बंधक बतौर नारकीय जीवन बिता रहे हैं. दुनिया को समझना होगा और इस ओर देखना होगा कि बोतल से जिन्न बाहर आ चुका है. साथ ही नफरत और सामूहिक नरसंहार का सिद्धांत ही चहुंओर फैलाया जाएगा, जब तक कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय इस पर लगाम लगाने के लिए आगे नहीं आता.'

यह भी पढ़ेंः धारा 370 पर कांग्रेस को बड़ा झटका, देशहित पहले कह अब हुड्डा ने पकड़ा अलग रास्ता

राजनाथ सिंह ने पाक अधिकृत् कश्मीर पर बात का दिया प्रस्ताव
गौरतलब है कि रविवार को केंद्रीय रक्षा मंत्री ने एक बार फिर दो टूक कहा है कि अब अगर दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय बातचीत होगी, तो वह पाक अधिकृत कश्मीर के मसले पर ही होगी. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने यह बयान पंचकुला में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की जन आशीर्वाद यात्रा में दिया है. इसके पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने यह कहकर सनसनी फैला दी थी कि परमाणु हथियारों पर भारत की नीति स्पष्ट है. भारत पहले परमाणु हथियार इस्तेमाल करने पर प्रतिबद्ध है. हालांकि यह सिद्धांत पत्थर की लकीर भी नहीं है, जो बदला नहीं जाए. काल-खंड-देश-परिस्थितियों पर इस नीति में बदलाव भी संभव है. समय आने पर इसमें बदलाव भी संभव है.

First Published: Aug 18, 2019 05:24:41 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो