BREAKING NEWS
  • Jharkhand Poll: जमशेदपुर पूर्व सीट पर कांग्रेस और बीजेपी में होगी कांटे की टक्कर- Read More »
  • Jharkhand Poll: पहले चरण की 13 सीटों में से इन 5 सीटों पर दिलचस्प होगा मुकाबला- Read More »
  • Srilanka Presidentia Election: भारत के लिए राहत की खबर, पूर्व रक्षा मंत्री गोटाबया राजपक्षे ने जीता - Read More »

पाकिस्तान-चीन कर रहे हुटान शहर में हवाई युद्धाभ्यास, भारतीय वायुसेना सर्तक

न्यूज स्टेट ब्यूरो.  |   Updated On : August 26, 2019 09:54:20 PM
चीन के होटन शहर में पाकिस्तान-चीन कर रहे संयुक्त हवाई युद्धाभ्यास.

चीन के होटन शहर में पाकिस्तान-चीन कर रहे संयुक्त हवाई युद्धाभ्यास. (Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  कश्मीर पर अलग-थलग पड़ चुका पाकिस्तान फिलहाल चीन के साथ हवाई युद्धाभ्यास कर रहा है.
  •  चीन के होटन शहर में हो रहे इस युद्धाभ्यास पर भारतीय वायुसेना भी कड़ी नजर रखे हैं.
  •  पाकिस्तान अपने जेएफ-17 फाइटर जेट और चीन जे-10 और जे-11 लड़ाकू विमान लेकर शामिल.

नई दिल्ली.:  

कश्मीर पर अलग-थलग पड़ चुका पाकिस्तान फिलहाल चीन के साथ हवाई युद्धाभ्यास कर रहा है. चीन के होटन शहर में हो रहे इस युद्धाभ्यास पर भारतीय वायुसेना भी कड़ी नजर रखे हुए हैं. इसके साथ ही सोमवार को पाकिस्तान के वजीर-ए-आजम इमरान खान की ढके-छिपे शब्दों में कश्मीर पर परमाणु युद्ध की धमकी पर सर्तक भी है. पाकिस्तान इस युद्धाभ्यास में अपने जेएफ-17 फाइटर जेट और चीन जे-10 और जे-11 लड़ाकू विमान लेकर शामिल है.

यह भी पढ़ेंः नेवी चीफ करमबीर सिंह का बड़ा खुलासा, पानी के रास्ते हमले की फिराक में आतंकवादी

लद्दाख से 200 किमी दूर चल रहा युद्धाभ्यास
भारतीय वायुसेना के अधिकारी ने कहा कि लद्दाख के लेह शहर से लगभग 200 किलोमीटर दूर स्थित होटन शहर में चीन और पाक 'शाहीन' नाम से युद्धाभ्यास कर रहे हैं. युद्धाभ्यास में भाग लेने के लिए चीन जाने से पहले पाकिस्तानी वायुसेना के विमान गिलगित-बल्तिस्तान के स्कार्दू इलाके में तैनात थे. यह युद्धाभ्यास दो दिन पहले शुरू हुआ था. गौरतलब है कि सोमवार को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कश्मीर मुद्दे को चर्चा में लाने की कोशिश करते हुए पाक की जनता को संबोधित किया और भारत को परमाणु हमले की गीदड़भभकी दी. इमरान खान ने कहा कि कश्मीर के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं.

यह भी पढ़ेंः कश्मीर पर झूठ बोलना पाकिस्तान के राष्ट्रपति को पड़ा महंगा, ट्विटर ने भेजा नोटिस

चीन ही तारणहार बना है पाकिस्तान का
गौरतलब है कि फिलहाल पाकिस्तान को सैन्य साज-ओ-सामान का सबसे बड़ा आपूर्तिकर्ता देश चीन ही है. लड़ाकू विमानों से लेकर मिसाइल तकनीक और युद्धपोत चीन ने ही सप्लाई किए हैं. पुलवामा आतंकी हमले की प्रतिक्रियास्वरूप बालाकोट सर्जिकल स्ट्राइक के बाद पाकिस्तानी वायुसेना ने चीनी सैन्य साज-ओ-सामान के साथ ही भारतीय वायु सीमा का उल्लंघन किया था.

First Published: Aug 26, 2019 09:54:20 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो