BREAKING NEWS
  • इधर कॉलेज में चल रही थी खेल प्रतियोगिता, उधर छात्र ने मार दिया मधुमक्खियों के छत्ते में पत्थर, फिर...- Read More »
  • Howdy Modi: पीएम मोदी Iron Man हैं, जानिए किसने कही ये बात- Read More »
  • जेल में कैदियों के खर्राटे और मच्छरों से बेचैन हैं स्वामी चिन्मयानंद!- Read More »

अपने ही घर में अलग-थलग पड़े पीएम इमरान खान, अब चुनाव आयोग ने इस फैसले का किया विरोध

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : August 25, 2019 11:42:57 PM
पाकिस्तान के पीएम इमरान खान (फाइल फोटो)

पाकिस्तान के पीएम इमरान खान (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

पाकिस्तान तहरीर-ए-इंसाफ (PTI) और पाकिस्तान के चुनाव आयोग (ECP) आमने-सामने आ गए हैं. विपक्ष के बाद अब पाकिस्तान के मुख्य चुनाव आयुक्त (CEC) सरदार मोहम्मद रजा खान (Sardar Mohammad Raza Khan) ने पीएम इमरान खान (PM Imran Khan) के खिलाफ बगावत कर दी है. उन्होंने राष्ट्रपति की नियुक्त को गलत ठहराते हुए दो नवनियुक्त चुनाव आयुक्तों को शपथ दिलाने से इन्कार दिया है. इससे इमरान खान काफी फजीहत हो रही है.

यह भी पढ़ेंःपति के प्यार से ऊब गई पत्नी ने कहा- बस, अब मुझे तलाक चाहिए

दोनों नवनियुक्त सदस्य खालिद महमूद सिद्दीकी (सिंध से) और मुनीर अहमद काकर (बलूचिस्तान से) शुक्रवार को शपथ लेने के लिए पाकिस्तान चुनाव आयोग पहुंचे, लेकिन उन्हें पहले इंतजार करने के लिए कहा गया और बाद में बताया गया कि सीईसी शपथ नहीं दिलाएंगे. उनकी नियुक्ति पाकिस्तान के संविधान के अनुसार नहीं की गई थी. चुनाव आयुक्त ने कहा, राष्ट्रपति ने गलत तरीके से नियुक्ति की है.

बाद में सीईसी सरदार मोहम्मद रजा खान ने एक पत्र जारी कर संसदीय कार्य मंत्रालय को सूचित किया कि दो सदस्यों की नियुक्ति में पाकिस्तान संविधान में निर्धारित प्रक्रिया का पालन नहीं किया गया है, इसलिए वह इन दोनों को शपथ नहीं दिलाएगा. सीईसी ने अपने पत्र में संविधान के अनुच्छेद 213 और 218 के उल्लंघन का भी हवाला दिया है.

यह भी पढ़ेंःपहले अपने जांघ फिर बाजू में मारी गाेली, इसके बाद बुला ली पुलिस, जानें क्‍यों

उन्होंने अपने पत्र में लिखा है कि यह संविधान का मामला है कानून का नहीं. पूर्व न्यायाधीश से उनकी शपथ के उल्लंघन की उम्मीद कैसे की जा सकती है? बता दें कि पाकिस्तान के संयुक्त विपक्ष के मल्टी-पार्टी कॉन्फ्रेंस (एमपीसी) ने पिछले दिनों संघीय सरकार पर अंतर्राष्ट्रीय साजिश के तहत कश्मीर को बेचने का आरोप लगाया है और संघीय सरकार को गिराने के लिए जल्द ही राष्ट्रीय राजधानी को घेरने की चेतावनी दी है.

First Published: Aug 25, 2019 06:59:42 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो