BREAKING NEWS
  • कर्नाटक : विधायकों को अयोग्‍यता से राहत नहीं, लड़ सकेंगे विधानसभा चुनाव, सुप्रीम कोर्ट ने दिया फैसला- Read More »
  • Today History: आज ही के दिन WHO ने एशिया के चेचक मुक्त होने की घोषणा की थी, जानें आज का इतिहास- Read More »
  • Horoscope, 13 November: जानिए कैसा रहेगा आज आपका दिन, पढ़िए 13 नवंबर का राशिफल- Read More »

दोगले पाकिस्तान की एक और शर्मनाक हरकत कैमरे में हुई कैद, देखें वीडियो

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : September 14, 2019 05:54:10 PM

(Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  वीडियो में दिखाई दिया पाकिस्तान का दोहरा चरित्र
  •  पाक ने अपने ही सेना के जवानों के शवों को छोड़ा
  •  भारतीय जवानों ने जवाबी कार्यवाही में मार गिराए थे 

नई दिल्‍ली:  

पाकिस्तान कितने दोगले चरित्र का देश है इसका अंदाजा लगाना बहुत ही मुश्किल है. न्यूज एजेंसी एएनआई ने एक वीडियो जारी किया है जिसमें पाकिस्तान अपने ही सेना के जवानों को लेकर भेदभाव करता हुआ दिखाई दिया. इस वीडियो ने पाकिस्तान के दोगले चरित्र को एक बार फिर से उजागर किया है. दरअसल पाकिस्तानी सीमा के पास मारे जाने वाले पंजाबी मुस्लिम जवान के शवों को तो उठाकर ले जा रहे हैं लेकिन पीओके या अन्य हिस्सों के रहने वाले जवानों के शव नहीं ले जाते हैं. भारत को लेकर पूरी दुनिया में झूठ और भ्रम का प्रोपेगेंडा फैलाने वाला पाकिस्तान अपने ही सैनिकों को मौत के बाद उनके साथ भेदभाव कर रहा है. उसकी यह नापाक हरकत कैमरे में कैद हो गई है.

पिछले दिनों पाकिस्तान के बार-बार सीजफायर उल्लंघन के बाद भारतीय सेना की जवाबी कार्यवाही में पीओके के हाजीपुर सेक्टर में दो पाकिस्तानी सेना के जवानों को मार गिराया था, पाकिस्तान के इन जवानों के मारे जाने के बाद पाकिस्तानी सेना के जवान हाथ में सफेद झंडा लहराते हुए पीओके के उस हिस्से में पहुंचे जहां उनके जवानों के शव पड़े हुए थे. न्यूज एजेंसी एएनआई द्वारा जारी किए गए वीडियो में यह साफ तौर पर दिखाई दे रहा है कि पहाड़ी से कुछ जवान नीचे उतरते हैं और वहां पड़े दो पाकिस्तानी जवानों के शव उठाकर वापस पाकिस्तानी सीमा रेखा में चले जाते हैं. आपको बता दें कि जिन जवानों के शवों को पाकिस्तान वापस लेकर गया वो सभी पंजाबी मुसलमान थे लेकिन वहीं पर पीओके के दूसरे हिस्सों में पड़े जवानों के शव को पाकिस्तानी सेना ने लावारिस छोड़ दिया.

यह भी पढ़ें-गैंगरेप के बाद नग्न अवस्था में सड़क पर भागी नाबालिग, पढ़ें दिल दहला देने वाला वाकया

आपको बता दें कि युद्ध के दौरान सफेद झंडे के प्रयोग को शांति का प्रतीक माना जाता है और युद्ध क्षेत्र किसी भी ऐसी जगह पर सफेद झंडे को दिखाने का मतलब होता है कि उस दौरान कोई हमला नहीं करेगा और फायरिंग नहीं होगी. आपको बता दें कि 30 और 31 जुलाई को जम्मू-कश्मीर में भारतीय सेना ने पाकिस्तानी सेना की बैट टीम के कई कमांडो को मार गिराया था जिसके शव को पाकिस्तान ने लेने इनकार कर दिया था. इस सर्जिकल स्ट्राइक के दौरान भारतीय जवानों ने बहादुरी का परिचय देते हुए 5 से 7 पाकिस्तानी ऑर्मी के जवानों को ढेर कर दिया था, ये सभी जवान पाकिस्तानी आतंकवादियों को भारत की सीमा में घुसपैठ करने में मदद कर रहे थे.

यह भी पढ़ें-चेन्नई हाई कोर्ट ने इस मामले में कहा, 'सड़कों को रंगने के लिए कितना खून बहाएगी AIDMK'

First Published: Sep 14, 2019 04:00:29 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो