BREAKING NEWS
  • दलितों और पिछड़ों के आरक्षण से जुड़ी बड़ी खबर, योगी सरकार लेने जा रही है ये फैसला- Read More »
  • PM Modi in Bhutan: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भूटान के छात्रों को किया संबोधित, दिया ये बड़ा संदेश- Read More »
  • Ashes 2019: आस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को बैकफुट पर धकेला- Read More »

कुलभूषण जाधव मामले में भारत ने 1 रुपया व पाकिस्तान ने करोड़ों खर्च किए

News State Bureau  |   Updated On : July 18, 2019 08:25 AM
कुलभूषण जाधव (IANS)

कुलभूषण जाधव (IANS)

नई दिल्ली:  

देश के जाने माने वकील हरीश साल्वे ने पाकिस्तान की जेल में बंद कुलभूषण जाधव का केस अंतर्राष्ट्रीय अदालत में लड़ने के लिए बतौर फीस महज एक रुपया लिया. वहीं, पाकिस्तान ने जाधव को जासूस साबित करने के लिए अपने वकील पर 20 करोड़ रुपये से अधिक खर्च कर दिए. तत्कालीन विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने 15 मई 2017 को एक ट्वीट में यह जानकारी दी थी कि हरीश साल्वे ने जाधव का केस लड़ने के लिए एक रुपये लिया है.

यह भी पढ़ेंः कुलभूषण जाधव मामलाः वकील हरीश साल्वे बोले- अंतरराष्ट्रीय कोर्ट में पाकिस्तान झूठ हुआ बेनकाब

वहीं, पाकिस्तान सरकार ने पिछले साल देश की संसद नेशनल असेंबली में बजट दस्तावेज पेश किया, जिसमें कहा गया कि द हेग में अंतर्राष्ट्रीय अदालत (आईसीजे) में जाधव का केस लड़ने वाले वकील खावर कुरैशी को 20 करोड़ रुपये दिए गए हैं. कैब्रिज यूनिवर्सिटी से कानून में स्नातक कुरैशी आईसीजे में केस लड़ने वाले सबसे कम उम्र के वकील भी हैं.

खस्ता आर्थिक हालात का सामना कर रहे पाकिस्तान के जाधव केस पर इतनी बड़ी राशि खर्च करने पर सरकार को भारी आलोचना का सामना करना पड़ा. वर्ष 2016 के पाकिस्तान के बजट में अग्नि सुरक्षा के लिए 18.3 करोड़, जेल प्रशासन के लिए 3.8 करोड़ और सार्वजनिक सुरक्षा, शोध एवं विकास के लिए 3.1 करोड़ रुपये ही आवंटित किए गए थे.

यह भी पढ़ेंः कुलभूषण जाधव मामले में 16 जजों में से महज एक जज ही असहमत, जानिए कौन है वो जज

भारत की कूटनीतिक व कानूनी जीत के हीरो रहे जून 1955 में जन्मे देश के जाने-माने वकील हरीश साल्वे, मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक उनकी एक दिन की फीस करीब 30 लाख रुपये है, लेकिन कुलभूषण जाधव का केस उन्होंने महज एक रुपये में लड़ा. वह 1999 से 2002 तक देश के सालीसीटर जनरल रहे. उनके पिता एनकेपी साल्वे पूर्व कांग्रेस सांसद और क्रिकेट प्रशासक थे. अप्रैल 2012 में उनका निधन हो गया था.

अंतरराष्ट्रीय कोर्ट में कुलभूषण जाधव मामले में बुधवार को भारत को बड़ी जीत हासिल हुई. अंतरराष्ट्रीय न्यायालय (ICJ) ने भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव की फांसी की सजा पर रोक लगाते हुए पाकिस्तान को इस सजा की समीक्षा और दोबारा विचार करने का आदेश दिया है. इस मामले में अहम भूमिका निभाई वकील हरीश साल्वे ने प्रेसवार्ता की और आईसीजे के फैसले से जुड़ी बातों को बताया. उन्होंने कहा, अंतरराष्ट्रीय कोर्ट में पाकिस्तान का झूठ बेनकाब हो गया है. इस मामले में भारत को जीत और पाकिस्तान को हार मिली है.

यह भी पढ़ेंः कुलभूषण जाधव के मामले में ICJ के फैसले का विदेश मंत्रालय ने किया स्वागत, कही ये बात

गौरतलब है कि कुलभूषण जाधव पाकिस्तान की जेल में बंद है. कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने फांसी की सजा सुनाई थी. इसके बाद भारत ने मई 2017 में अंतरराष्ट्रीय न्यायालय का दरवाजा खटखटाया था. अब अंतरराष्ट्रीय कोर्ट ने कुलभूषण जाधव पर फैसला सुनाते हुए फांसी पर रोक लगा दी है और पाकिस्तान को इस पर पुनर्विचार करने के लिए कहा है. पाकिस्तान अब कुलभूषण जाधव को फांसी नहीं दे सकता है. अंतरराष्ट्रीय कोर्ट के कुल 16 जजों में से 15 ने भारत के पक्ष में फैसला दिया है. कोर्ट में पाकिस्तान एक जज ने भारत के विरुद्ध फैसला दिया है. अब इस मामले पर दोबारा सुनवाई होगी.

First Published: Wednesday, July 17, 2019 10:50 PM
Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

RELATED TAG: Advocate Harish Salve Free, Advocate Harish Salve Biography, Harish Salve On Kulbhushan Jadhav Case, Kulbhushan Yadav, Kulbhushan Yadav Pakistan, Kulbhushan Yadav Lawyer, Kulbhushan Yadav Story, Kulbhushan Jadhav News, Kulbhushan Jadhav Icj Verdict, Kulbh,

डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

न्यूज़ फीचर

वीडियो