BREAKING NEWS
  • जैश के नाम पर पाकिस्तान से आई चिट्ठी- भारत में होगा बड़ा धमाका, चारों ओर खून ही खून नजर आएगा- Read More »

इस्लामाबाद हाई कोर्ट ने सरकार को 'धर्मांतरण' कराई गई हिंदू लड़कियों की सुरक्षा का दिया आदेश

News State Bureau  |   Updated On : March 26, 2019 12:37:52 PM
इस्लामाबाद हाई कोर्ट (फोटो: DAWN)

इस्लामाबाद हाई कोर्ट (फोटो: DAWN)

इस्लामाबाद:  

पाकिस्तान में दो नाबालिग हिंदू लड़कियों के जबरन धर्मांतरण को लेकर इस्लामाबाद हाई कोर्ट ने सरकार को कहा कि उनकी सुरक्षा सुनिश्चित करे. दोनों लड़कियों ने कोर्ट से सुरक्षा की मांग की थी जिसके बाद 7 लोगों को गिरफ्तार किया गया था. जियो टीवी के मुताबिक, किशोरियों ने पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के बहावलपुर मे कोर्ट का रुख किया था और सुरक्षा की मांग की थी. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने इस मामले में जांच के आदेश भी दिए हैं.

रिपोर्ट के मुताबिक, दोनों हिंदू लड़कियों का अपहरण कर उसका जबरन हिंदू से इस्लाम में धर्मांतरण किया गया और मुस्लिम युवक से शादी करवा दी गई. रवीना (13) और रीना (15) नाम की दो नाबालिग बहनों को सिंध के घोटकी जिले से होली के अवसर पर कथित रूप से अगवा कर जबरन इस्लाम धर्म में शामिल कर दिया गया था.

दोनों बहनों के अपहरण के तुरंत बाद सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो गया जिसके बाद पाकिस्तान में विरोध प्रदर्शन भी शुरू हो गया था. पुलिस ने इस मामले में संदिग्ध निकाह अधिकारी को भी गिरफ्तार किया है.

सोशल मीडिया पर लड़कियों के पिता और भाइयों का एक वीडियो वायरल होने के बाद यह यह मामला प्रकाश में आया, जिसमें वे कह रहे हैं कि दोनों को अगवा कर जबरन इस्लाम कबूल करा दिया गया.

और पढ़ें : सुब्रमण्‍यम स्‍वामी का बड़ा आरोप- प्रियंका गांधी की शादी के रिशेप्‍शन में ISI के लोग बुलाए गए थे

वहीं एक अन्य वीडियो में नाबालिग लड़कियों को यह कहते हुए सुना जा रहा है कि उन्होंने अपनी मर्जी से इस्लाम कबूल कर लिया है. पाकिस्तान में हिंदू समुदाय ने दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए विरोध प्रदर्शन किया.

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने रविवार को अपहृत की गईं दो हिंदू किशोरियों के मामले में इस्लामाबाद स्थित भारतीय दूतावास से विस्तृत जानकारी मांगी थी. सुषमा ने संबंधित मीडिया रिपोर्ट्स को टैग करते हुए ट्वीट किया था, 'मैंने इस मामले में पाकिस्तान स्थित भारतीय उच्चायुक्त से एक रपट मांगी है.'

First Published: Mar 26, 2019 12:37:45 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो