BREAKING NEWS
  • Nude Photo Shoot: सोशल मीडिया पर धमाल मचा रहा है मराठी एक्ट्रेस का फोटोशूट, फैंस हुए बेकाबू- Read More »

ईरान: इस्लामिक कानून से दुखी लड़की ने खुद को लगाई थी आग, आज पहली बार स्टेडियम में मैच देखेंगी मुस्लिम महिलाएं

Sunil Chaurasia  |   Updated On : October 10, 2019 04:09:13 PM
आत्मदाह करने के बाद अस्पताल में भर्ती सहर

आत्मदाह करने के बाद अस्पताल में भर्ती सहर (Photo Credit : https://www.thetimes.co.uk )

नई दिल्ली:  

ईरान की तमाम महिलाओं के लिए आज का दिन, ऐतिहासिक दिन होगा. सहर खोडयारी नाम की एक इरानी महिला फुटबॉल की बहुत बड़ी फैन थीं. सहर की दिली ख्वाहिश थी कि वह स्टेडियम में जाकर अपनी मनपसंद टीम का फुटबॉल मैच देखे. लेकिन अफसोस ईरान के कट्टर इस्लामिक नियमों के बावजूद वह अपनी दिली ख्वाहिश तो पूरी कर ली, लेकिन सहर को अपने देश के दकियानूसी कानून के चलते आत्महत्या करनी पड़ गई. हालांकि सहर की वजह से अब ईरान की सभी महिलाएं अब स्टेडियम में जाकर मैच देख सकती हैं.

ये भी पढ़ें- मनीष पांडेय की दुल्हन बनने जा रही हैं ये एक्ट्रेस, फिल्म इंडस्ट्री में कुछ इस तरह से हुई थी एंट्री

एस्टेगलल (Esteghlal) सहर की फेवरिट फुटबॉल टीम थी. ये ईरान की ही एक क्लब टीम थी, जिसकी जर्सी का रंग नीला है. मार्च 2019 में ईरान के आजादी स्टेडियम में एस्टेगलल का एक मैच देखने के लिए सहर ने सुरक्षा घेरे को चकमा देकर मैदान में प्रवेश कर लिया था. स्टेडियम में पहुंचने के लिए सहर ने मर्दों की तरह आउटफिट कैरी किया था. हालांकि स्टेडियम के अंदर प्रवेश करने के बाद उन्होंने अपना नीले रंग का विग उतार दिया. इसी दौरान किसी ने उनकी फोटो खींच ली, जो देखते ही देखते उसी दिन सोशल मीडिया पर वायरल हो गई.

ये भी पढ़ें- Video: पंडाल में घुसकर मुस्लिमों ने जबरन बंद कराया भजन, बोला- मालोनी में रहना है तो असलम भाई कहना है

फोटो वायरल होने के बाद सहर को मैच के दौरान स्टेडियम के अंदर ही गिरफ्तार कर लिया गया. सहर की गिरफ्तारी के बाद कोर्ट ने उनके खिलाफ समन जारी कर पेश होने के आदेश जारी कर दिया. समन लेकर कोर्ट पहुंची सहर ने परिसर के बाहर ही खुद को आग के हवाले कर दिया. आनन-फानन में सहर को राजधानी तेहरान के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया. 90 फीसदी जल चुकीं सहर की इलाज के दौरान करीब एक हफ्ते बाद मौत हो गई. ब्लू गर्ल के नाम से पूरे ईरान में मशहूर सहर की मौत के बाद दुनिया भर में ईरान की खूब किरकिरी हुई.

ये भी पढ़ें- दुनिया की किसी भी पिच पर कहर बनकर टूट सकते हैं भारतीय गेंदबाज, कोच ने कही ये बड़ी बातें

विश्व स्तर पर हुई किरकिरी के बाद ईरान की आंखें खुली तो उन्होंने देश के सालों पुराने कट्टर इस्लामिक कानून को वापस लिया और स्टेडियम में महिलाओं के प्रवेश को अनुमति दे दी. ईरान सरकार ने सहर के जीते-जी तो ये कानून वापस नहीं लिया, लेकिन उनकी मौत के बाद ही सही.. उनका सपना पूरा हो गया. आज सहर ईरान की हजारों महिलाओं की आंखों से आजादी स्टेडियम में होने वाले ईरान और कंबोडिया का फुटबॉल मैच देखेंगी. 90 हजार दर्शकों की कैपेसिटी वाले इस स्टेडियम में आज के मैच के लिए 3500 सीटें केवल महिलाओं के लिए आरक्षित रखी गई हैं.

First Published: Oct 10, 2019 04:09:13 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो