ब्रिटेन में भारतीय मूल के टैक्सी चालक को महिला का यौन उत्पीड़न करने के आरोप में जेल की सजा

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : November 12, 2019 10:21:33 PM
सांकेतिक चित्र

सांकेतिक चित्र (Photo Credit : न्यूज स्टेट )

नई दिल्‍ली:  

ब्रिटेन की एक अदालत ने लंदन में एक महिला यात्री का यौन उत्पीड़न करने का दोषी पाये जाने के बाद भारतीय मूल के एक टैक्सी चालक को मंगलवार को 16 महीने की जेल की सजा सुनाई है. गौरतलब है कि महिला जब अपने घर जा रही थी, उस दौरान उसकी ‘बेहद कमजोर हालत’ देख टैक्सी चालक ने उसका यौन उत्पीड़न किया था. उबर के लिए काम करने वाला तैमूर शाह पश्चिम लंदन में इस्लेवर्थ क्राउन कोर्ट में न्यायाधीश निकोलस वुड के सामने पेश हुआ. न्यायाधीश ने कहा, ‘‘एक युवती आपके विश्वास पर देर रात आपके कैब में सवार हुई थी.’

45 वर्षीय टैक्सी चालक ने पिछले साल जनवरी में 27 वर्षीय पीड़ित महिला का यौन उत्पीड़न करने से इनकार किया था, लेकिन पिछले महीने एक सप्ताह तक चली सुनवाई के बाद उसे दोषी पाया गया. स्कॉटलैंड यार्ड की रोड्स एंड ट्रांसपोर्ट पुलिसिंग कमांड के डिटेक्टिव सुपरिटेंडेंट एंडी कॉक्स ने कहा, ‘शाह ने एक विश्वसनीय लाइसेंस प्राप्त चालक के रूप में अपनी पहचान का घृणित रूप से फायदा उठाया और कमजोर हालत में एक यात्री का यौन उत्पीड़न किया.’ 

महिला टीचर ने अपने ही छात्र को बनाया शिकार
अमेरिका के केन्टकी में पुलिस ने एक महिला टीचर को यौन-उत्पीड़न के आरोप में गिरफ्तार किया है. 23 वर्षीय कैंडल बर्क नाम की एक जीवविज्ञान अध्यापिका पर 15 साल के छात्र के साथ यौन संबंध बनाने का आरोप है. आरोपी टीचर Grant County High School में जीवविज्ञान पढ़ाती हैं. पुलिस ने कैंडल को छात्र के साथ शारीरिक संबंध बनाने के अपराध में बीते बुधवार को गिरफ्तार कर लिया. महिला पर छात्र के साथ 4 बार रेप और 4 बार अप्राकृतिक संबंध बनाने के आरोप लगे हैं.

यह भी पढ़ें-पूर्व पाक पीएम नवाज शरीफ को शर्तों के साथ इलाज कराने के लिये विदेश जाने की अनुमति मिली

काउंटी शेरिफ के मुताबिक कैंडल बर्क ने गर्मियों की छुट्टियों के दौरान किशोर के साथ कई बार शारीरिक संबंध बनाए थे. कैंडल बर्क की करतूतों के बारे में एक अन्य छात्र ने स्कूल प्रशासन को जानकारी दी थी, जिसके बाद स्कूल के संसाधन अधिकारी को किसी भी तरह की अनहोनी के लिए अलर्ट कर दिया गया था. मामला सामने आने के बाद स्कूल प्रशासन ने पुलिस को सूचित कर दिया था. 2018 में ग्रेजुएट हुईं कैंडल बर्क को स्कूल में पढ़ाते हुए अभी सिर्फ एक ही साल हुआ था.

यह भी पढ़ें-इस्लामिक जिहाद कमांडर का आतंकवाद भड़काने में बड़ा हाथ था : नेतन्याहू

छात्र के साथ संबंध बनाने के आरोप में कैंडल की जमानत के लिए 50 हजार डॉलर की राशि तय की गई है. आरोपी टीचर को अब सोमवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा. मामले पर नजर बनाए जिले के एक प्रवक्ता ने बताया कि छात्र के अभिभावकों को इस अपराध के बारे में बता दिया गया है. स्कूल प्रशासन ने आरोपी टीचर को नौकरी से निकाल दिया है. प्रवक्ता ने बताया कि यह एक शर्मनाक अपराध है.

First Published: Nov 12, 2019 10:21:33 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो