इमरान खान के गिड़गड़ाने के बाद अमेरिका ने भारत-पाकिस्तान को दी ये नसीहत

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : October 21, 2019 09:16:16 PM
अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Photo Credit : (फाइल फोटो) )

नई दिल्ली:  

आतंकवाद के खिलाफ भारतीय सेना (Indian Army) के एक और जोरदार प्रहार के बाद पाकिस्तान (Pakistan) ने अमेरिका (America) से भारत को 'रोकने' की गुहार लगाई है. NIA के अनुसार, यूएस स्टेट डिपार्टमेंट की ओर जारी बयान में कहा गया है कि सीमा पर भारत और पाकिस्तान शांति बनाए रखे. दोनों देशों को कश्मीर समेत अन्य मुद्दे पर आपसी बातचीत से सुलझाना चाहिए.

यह भी पढ़ेंः भारत में घुसपैठ रोकने के लिए अब 'आकाश' से होगी पाकिस्तान-चीन सीमा की रखवाली

अमेरिका का कहना है कि हमें हाल में नियंत्रण रेखा पर हुई गोलीबारी की जानकारी मीडिया से मिली थी. भारत और पाकिस्तान को एलओसी पर शांति बनाए रखना चाहिए. साथ ही दोनों देशों को मिलकर सीमा पार आतंकवाद को रोकने की कोशिश करनी चाहिए. उन्होंने आगे कहा कि अमेरिका हमेशा सीधी बातचीत का समर्थन करता है. भारत और पाकिस्तान को कश्मीर और अन्य मुद्दे का बैठकर हल निकालना चाहिए.

बता दें कि पाकिस्तानी मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा पर भीषण झड़पों के बाद अमेरिका से आग्रह किया है कि वह भारत को दक्षिण एशियाई क्षेत्र को एक खतरनाक युद्ध में झोंकने से रोके. मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों ने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया कि पाकिस्तान ने अमेरिका से कहा है कि इससे पहले की 'बहुत देर' हो जाए, वह हालात को संभालने के लिए हस्तक्षेप करे. प्रधानमंत्री इमरान खान के एक सहयोगी ने कहा, "भारत, पाकिस्तान को उकसाने की हर संभव कोशिश कर रहा है. हम शांति चाहते हैं, लेकिन हम झुकेंगे नहीं."

यह भी पढ़ेंः आजादी मार्च से डरे पाकिस्तान के PM इमरान खान, नजरबंद हो सकते हैं मौलाना फजलुर रहमान

उन्होंने कहा कि क्षेत्र में तनाव की स्थिति से अमेरिका भी चिंतित है. भारत ने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में आतंकवादियों के कई लॉन्च पैड को रविवार को ध्वस्त कर दिया. इस पर पाकिस्तान ने सुरक्षा परिषद के पांच वीटो अधिकार प्राप्त देशों से आग्रह किया कि वे भारत से इन लॉन्च पैड के बारे में जानकारी मांगें. पाकिस्तान ने यह भी कहा था कि वह 'सच्चाई' दिखाने के लिए इन देशों के राजनयिकों को घटनास्थल का दौरा करा सकता है.

First Published: Oct 21, 2019 09:15:07 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो