BREAKING NEWS
  • महाराष्ट्र में सियासी घमासान: शिवसेना को राज्यपाल ने दिया झटका, और समय देने से किया इनकार- Read More »

एफबीआई (FBI) के 10 मोस्ट वांटेड (Most Wanted) की लिस्ट में भारत का भगोड़ा (Fugitive) शामिल

आईएएनएस  |   Updated On : October 19, 2019 07:34:02 AM
एफबीआई के 10 मोस्ट वांटेड की लिस्ट में भारत का भगोड़ा शामिल

एफबीआई के 10 मोस्ट वांटेड की लिस्ट में भारत का भगोड़ा शामिल (Photo Credit : IANS )

न्यूयार्क/नई दिल्ल:  

अमेरिकी एजेंसी फेडरल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन (Fedral Bureau of Investigation) को भारत का भगोड़ा भद्रेश कुमार पटेल (Bhadresh Kumar Patel) की पिछले चार साल से तलाश है. अमेरिका (America) और भारत (India) में एक साथ की जा रही यह अब तक की सबसे बड़ी खोजबीन है. अहमदाबाद (Ahemdabad) के विरमगाम का रहने वाला पटेल एफबीआई (FBI) के 10 अति वांछित भगोड़ों की सूची में शामिल है और उसके ऊपर एक लाख डॉलर का इनाम है. एफबीआई के अनुसार, पटेल कोल्ड-ब्लडेड मर्डर (Cold Bleded Murder) और अत्यंत खतरनाक अपराधी है जिसने मैरीलैंड स्थित हैनोवर के डंकिन डोनट स्टोर में बेहद सनकी तरीके से अपनी जवान पत्नी की हत्या (Murder Of Wife) कर दी थी.

यह भी पढ़ें : कमलेश तिवारी हत्याकांड में बड़ा खुलासा, ISIS आतंकियों के निशाने पर थे हिंदू समाज पार्टी के नेता

हालांकि 10 अत्यंत वांछित भगोड़ों की सूची में बदलती रहती है और भद्रेश पटेल एक जगह से दूसरी जगह भागता रहा है लेकिन उसका नाम एफबीआई सूची में (2019) में लगातार बना हुआ है. इस सूची में कुछ अत्यंत खतरनाक भगोड़े शामिल हैं। पटेल का नाम इस सूची में पहली बार 2017 में शामिल हुआ.

एफबीआई को उसकी जांच में मदद करने वाले देश के पुलिस जासूर कैली हार्डिग ने कहा, "पटेल की पत्नी जवान थी जिसकी काफी बर्बरता से हत्या कर दी गई. हम ऐसे हत्यारे की तलाश कर रहे हैं."

यह भी पढ़ें : अगर सीमा पार बैठे मास्टरमाइंड और आतंकियों ने कोई गलती की तो पूरी सजा मिलेगी, मुंबई में बोले मोदी

पलक 21 साल की थी और उस समय पटेल की उम्र 24 साल थी. दोनों डंकिन डोनट्स के स्टोर में रात के शिफ्ट में काम कर रहे थे. स्टोर से मिले सीसीटीवी के फुटेज के अनुसार, भद्रेश और पलक रैक के पीछे गायब होने से पहले साथ-साथ चल रहे थे. कुछ क्षण बाद पटेल दोबारा प्रकट होता है. वह उसके बाद किचेन ओवन को बंद करता है और वह स्टोर से इस प्रकार निकलता है जैसे कुछ नहीं हुआ. उसके शरीर का हावभाव और चेहर की आकृति से वह काफी सामान्य प्रतीत होता है.

इस बर्बर हत्या के मामले में एफबीआई की जांच से खुलासा हुआ कि पलक का मृत शरीर बाद में 12 अप्रैल 2015 को बरामद हुआ जिस पर चाकू से हमले के कई निशान थे. बर्बर तरीके से पीटने और चाकू से हमला कर पलक को मौत के घाट उतारने के बाद पटेल स्टोर से भागकर पास स्थित अपने अपार्टमेंट में लौट आया. उसके बाद उसने अपने कुछ निजी सामान बटोर कर एक कैब किराये पर लिए और नेवार्क स्थित हवाई अड्डे के पास एक होटल में चला गया.

First Published: Oct 19, 2019 07:34:02 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो