इमरान खान को हाईकोर्ट की कड़ी फटकार, कोरोना वायरस से निपटने नहीं दिखाई गंभीरता

News State  |   Updated On : March 26, 2020 10:20:54 AM
Imran Khan

कोरोना वायरस पर सही समय पर सही फैसला नहीं ले सके इमरान. (Photo Credit : न्यूज स्टेट )

इस्लामाबाद:  

पाकिस्तान (Pakistan) पर कोरोना वायरस (Corona Virus) के मंडराते साये के बावजूद वजीर-ए-आजम इमरान खान (Imran Khan) ने देश में लॉकडाउन करने से इंकार कर दिया था. हालांकि कई प्रांतों में इसकी मांग उठ रही थी. ऐसे में सेना ने अचानक लॉकडाउन (Lockdown) का फैसला लिया, लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी. इसके दुष्परिणाम यह निकले कि पाकिस्‍तान में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्‍या एक हजार के पार पहुंच गई है जबकि 7 की मौत हो गई है. सबसे ज्‍यादा 413 मामले सिंध से आए हैं. पूरे देश में कोरोना वायरस को लेकर बदइंतजामी के कारण अब इमरान खान सरकार कोर्ट के निशाने पर आ गई है.

यह भी पढ़ेंः कोरोना वायरस से जंग में दुनिया की आधी आबादी लॉकडाउन में, 190 देश आए चपेट में

सिंध बुरी तरह से चपेट में
पाकिस्‍तान के सबसे बड़े सूबे पंजाब में 296 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं. पंजाब के शेखूपुरा इलाके में पहला ऐसा मरीज मिला है जिसका विदेश जाने का कोई रेकॉर्ड नहीं था. मंगलवार को उसकी मौत हो गई. बताया जा रहा है कि पाकिस्‍तान में ज्‍यादातर नए मामले बलूचिस्‍तान, सिंध, इस्‍लामाबाद और गिलगिट बाटिस्‍तान से आए हैं. इस महमारी से सबसे ज्‍यादा सिंध प्रभावित हुआ है. इस बीच कोरोना वायरस को लेकर लाहौर हाई कोर्ट ने इमरान सरकार को जमकर लताड़ लगाई है. हाई कोर्ट ने पिछले कुछ हफ्ते में ईरान जाने वाले लोगों के बारे में जानकारी मांगी है. इसके अलावा विदेशों में फंसी पाकिस्‍तानी नागरिकों के बारे में आंकड़े मांगे हैं. पाकिस्‍तानी प्रधानमंत्री इमरान खान के मुताबिक विदेशों से करीब डेढ़ लाख पाकिस्‍तानी वापस आना चाहते हैं लेकिन वह अभी लाने में सक्षम नहीं हैं.

यह भी पढ़ेंः पीएम नरेंद्र मोदी जी-20 देशों संग आज बनाएंगे कोरोना से जंग का एक्शन प्लान

हाई कोर्ट ने लगाई इमरान को लताड़
हाई कोर्ट ने कहा कि इमरान सरकार पूरे मामले को लेकर गंभीर नहीं है. कोर्ट ने कहा कि सरकार ने ईरान से तीर्थयात्रियों को समय पर वापस बुलाने के लिए प्रयास नहीं किया. यही नहीं जो यात्री ईरान से लौटे उन्‍हें घर जाने दिया गया जबकि उन्‍हें 14 दिन तक अलग-थलग रखने की जरूरत थी. हाई कोर्ट ने कहा कि ये ईरान से आए लोग अब देश में कोरोना वायरस के प्रसार के बड़े स्रोत बन गए हैं. कोर्ट ने कहा कि ऐसा लगता है कि इस महाआपदा को सही ढंग से संभालने को लेकर गंभीर नहीं है. इससे पहले कोरोना वायरस के कहर से जूझ रहे पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने मंगलवार को इस महामारी से निपटने के लिए आर्थिक पैकेज का ऐलान किया था.

  • HIGHLIGHTS
  • पाकिस्‍तान में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की संख्‍या एक हजार पार.
  • हाई कोर्ट ने कहा कि इमरान सरकार पूरे मामले को लेकर गंभीर नहीं है.
  • नए मामले बलूचिस्‍तान, सिंध, इस्‍लामाबाद और गिलगिट बाटिस्‍तान से आए.
First Published: Mar 26, 2020 10:20:54 AM

न्यूज़ फीचर

वीडियो