BREAKING NEWS
  • Mini Surgical Strike: वीके सिंह का पाकिस्तान को जवाब, बोले- कई बार पूंछ सीधी...- Read More »

पाकिस्तान तालिबान और अन्य आतंकी संगठनों को समर्थन देना बंद करे, अमेरिकी सीनेटर्स की नसीहत

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : October 12, 2019 02:24:04 PM
अमेरिकी सीनेटर्स क्रिस वैल हॉलन औऱ मैगी हासन ने दी पाकिस्तान को नसीहत.

अमेरिकी सीनेटर्स क्रिस वैल हॉलन औऱ मैगी हासन ने दी पाकिस्तान को नसीहत. (Photo Credit : (फाइल फोटो) )

ख़ास बातें

  •  वैश्विक बिरादरी आतंकवाद के मसले पर पाकिस्तान की कोशिशों से कतई संतुष्ट नहीं है.
  •  सीनेटर मैगी हासन और क्रिस वैन हॉलन ने तालिबान को समर्थन बंद करने को कहा.
  •  अफगानिस्तान में शांति बहाली और स्थायित्व पर भी की गई चर्चा.

नई दिल्ली:  

अमेरिकी सीनेटर मैगी हासन और क्रिस वैन हॉलन ने पाकिस्तान से तालिबान को समर्थन बंद करने को कहा है. इसके साथ ही उन्होंने वजीर-ए-आजम इमरान खान से कहा है कि वह परस्पर बातचीत के जरिये भारत के साथ तनाव कम करने की ईमानदार कोशिश करे. पाकिस्तान को अमेरिकी सीनेटर्स की यह नसीहत इमरान खान समेत पाकिस्तान सेनाध्यक्ष कमर जावेद बाजवा से मुलाकात के बाद दी गई है. इसके साथ ही यह भी साफ हो गया है कि बतौर आतंकवाद समर्थक देश पाकिस्तान की छवि दुनिया भर में संदिग्ध ही हुई है. वैश्विक बिरादरी आतंकवाद के मसले पर पाकिस्तान की कोशिशों से संतुष्ट नहीं है.

यह भी पढ़ेंः 

पाकिस्तान आतंकी विचारधार पर अंकुश लगाए
एक बयान में अमेरिकी सीनेटर्स ने कहा है कि पाकिस्तान के प्रमुख नेताओं से आतंकवाद पर रोकथाम लगाने के लिए अच्छी बातचीत हुई. बातचीत में इस पर खासतौर पर चर्चा की गई कि किस तरह आतंकी विचारधारा पर अंकुश लगाया जा सकता है. उन्होंने आगे कहा कि पाकिस्तान के वरिष्ठ नेताओं से तालिबान और अन्य आतंकी संगठनों को समर्थन देना बंद करने को लेकर हमारी महत्वपूर्ण बातचीत हुई है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि कश्मीर के घटनाक्रम को लेकर पाकिस्तान और भारत से विद्यमान तनाव को कम करने पर भी चर्चा की गई.

यह भी पढ़ेंः 

पेंटागन भारत पर आतंकी हमलों पर जाहिर कर चुका है चिंता
गौरतलब है कि पेंटागन के एक शीर्ष अधिकारी ने हाल ही में आशंका जताई थी कि पाक स्थित आतंकी संगठनों की गतिविधियों पर अंकुश नहीं लगाया जाता है, तो कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के बाद वह भारत पर आतंकी हमले कर सकते हैं. इस कड़ी में यह ध्यान रखना भी जरूरी हो जाता है कि भारत लगातार कहता आ रहा है कि पाकिस्तान नियंत्रण रेखा पर आतंकियों को एकत्र कर रहा है. खासकर जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे में बदलाव के बाद पाकिस्तान समर्थित आतंकी संगठनों की गतिविधियों में तेजी देखने में आई है. ऐसे में अमेरिकी सीनेटर्स की पाकिस्तान को दी गई नसीहत यही बताती है कि अमेरिका भी समझ रहा है कि आतंकवाद के विस्तार में पाकिस्तान की अहम भूमिका है.

अफगानिस्तान में शांति बहाली पर भी चर्चा
इमरान खान और कमर जावेद बाजवा से मुलाकात के अलावा अमेरिकी सिनेटर्स ने अफगानिस्तान दौरा भी किया. इस दौरान उन्होंने अफगानिस्तान में राष्ट्रपति पद के दावेदार अब्दुल्लाह अब्दुल्ला से मुलाकात भी की. इस यात्रा के दौरान सीनेटर्स ने उन अफगानी नेताओं से भी मुलाकात की जो तालिबान से बातचीत में अहम भूमिका निभा रहे थे. इस मसले पर सीनेटर मैगी हासन ने कहा था अमेरिकी नागरिकों की सुरक्षा उनके लिए अहम मुद्दा है. ऐसे में अफगानिस्तान में शांति बहाली और स्थायित्व बेहद जरूरी है. इसमें पाकिस्तान भी अहम भूमिका रखता है. उन्होंने इसके साथ ही आईएसआईएस के क्षेत्रीय काडर द्वारा अफगानिस्तान में पेश की जा रही चुनौतियों पर भी गंभीर चिंता व्यक्त की.

First Published: Oct 12, 2019 02:24:04 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो