पाकिस्तान में नेताओं और शीर्ष अधिकारियों की प्रथम श्रेणी हवाई यात्रा पर प्रतिबंध, इमरान सरकार ने लिए ताबड़तोड़ फैसले

इमरान सरकार ने कैबिनेट मीटिंग के बाद प्रेस कांफ्रेंस में 7 विस्तृत एजेंडा के बारे में बताया। इसमें सबसे अहम फैसला भारत की तर्ज पर देश भर में स्वच्छता अभियान चलाने का निर्णय लिया गया।

  |   Updated On : August 25, 2018 04:10 PM
पाकिस्तान के वजीर-ए-आजम इमरान खान (फोटो : IANS)

पाकिस्तान के वजीर-ए-आजम इमरान खान (फोटो : IANS)

इस्लामाबाद:  

पाकिस्तान के वजीर-ए-आजम (प्रधानमंत्री) इमरान खान ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री कार्यालय में एक सप्ताह के अंदर दूसरे कैबिनेट मीटिंग की अध्यक्षता की, जिसमें नई सरकार ने कई अहम फैसले लिए। इमरान सरकार ने कैबिनेट मीटिंग के बाद प्रेस कांफ्रेंस में 7 विस्तृत एजेंडा के बारे में बताया। इसमें सबसे अहम फैसला भारत की तर्ज पर देश भर में स्वच्छता अभियान चलाने का निर्णय लिया गया। बता दें कि भारत में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अक्टूबर 2014 में स्वच्छता अभियान की शुरुआत की थी। इसके अलावा नवनियुक्त सरकार ने राष्ट्रपति, मुख्य न्यायाधीश, सीनेट अध्यक्ष और नेशनल एसेंबली के स्पीकर की प्रथम श्रेणी हवाई यात्रा पर प्रतिबंध लगा दिया

कैबिनेट की बैठक के बाद पाकिस्तान के सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने इन एजेंडों को लेकर जानकारी दी। जिसमें मंत्रियों, सांसदों और प्रधानमंत्री के लिए विवेकाधीन फंड को खत्म करने का फैसला लिया गया। फवाद चौधरी ने इसे सबसे महत्वपूर्ण फैसला करार दिया।

जियो न्यूज के मुताबिक, चौधरी ने कहा कि प्रधानमंत्री इमरान खान विदेशी दौरों के लिए अपने विशेष प्लेन का इस्तेमाल नहीं करेंगे। साथ ही वे फर्स्ट क्लास के बदले क्लब क्लास में यात्रा करेंगे। सरकार ने सभी मंत्रियों, मुख्य न्यायाधीश और राष्ट्रपति के लिए फर्स्ट क्लास सुविधा को खत्म करने का निर्णय लिया है, वे अब क्लब क्लास में यात्रा करेंगे।

पीएम इमरान खान ने ईद के दौरान बिजली की कटौती पर चिंता जाहिर की और बिजली वितरण प्रणाली पर एक विस्तृत रिपोर्ट की मांग की है।

कैबिनेट ने मुल्तान, इस्लामाबाद, लाहौर के साथ पाकिस्तान के कई हिस्सों में जन यातायात योजनाओं के ऑडिट की मांग की है। सरकार ने कहा कि इन योजनाओं पर अधिक खर्च होने के बावजूद अधिक फंड की जरूरत है। इसके अलावा सरकार खैबर पख्तूनख्वा मेट्रो प्रोजेक्ट का भी ऑडिट करेगी।

पाकिस्तान की नई सरकार ने बड़े शहरों में वृक्ष लगाने की योजना लॉन्च की है। इसकी जानकारी अगले महीने पर्यावरण मंत्री को दी जाएगी। सरकार का कहना है कि यह समय की जरूरत है।

कैबिनेट ने सरकारी कार्यालयों को शनिवार को खोलने का फैसला किया है यानी अब सप्ताह में 6 दिन काम करने होंगे।

वहीं सरकार ने देश में स्वच्छता अभियान के लिए बड़े पैमाने पर तैयारी करने का फैसला किया है। सूचना मंत्री के मुताबिक देश को स्वच्छ बनाने के लिए एक अलग टास्क फोर्स का गठन किया गया है। इसमें समय लगेगा लेकिन इसे जल्द से जल्द करने का उद्देश्य है।

और पढ़ें : पाकिस्तान के नए विदेश मंत्री ने कहा, कुलभूषण जाधव पर सख्त फैसला लेगी इमरान खान की सरकार

क्रिकेटर से राजनेता बने पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के प्रमुख इमरान खान ने बीते 18 अगस्त को पाकिस्तान के 22वें प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली थी। इमरान खान ने अपने प्रतिद्वंदी पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) के उम्मीदवार शाहबाज शरीफ को हराकर प्रधानमंत्री की कुर्सी संभाली थी।

पाकिस्तान की नेशनल असेम्बली ने इमरान खान को देश का प्रधानमंत्री निर्वाचित किया था। इस दौरान उनके पक्ष में 176 वोट पड़े, जबकि उनके विरोधी शाहबाज शरीफ को 96 वोट मिले।

और पढ़ें : भारत-पाकिस्तान रिश्ते सुधारने में 'रचनात्मक' भूमिका निभाना चाहता है चीन

प्रधानमंत्री बनने के बाद इमरान खान ने संसद में अपने भाषण में भ्रष्टाचार रोधी अभियान को तेज करने का संकल्प लिया था। उन्होंने कहा था कि कर्ज लेने के बजाय वह देश में राजस्व पैदा करने पर ध्यान देंगे।

First Published: Friday, August 24, 2018 11:30 PM

RELATED TAG: Pakistan Pm Imran Khan, Narendra Modi, Imran Khan, Pakistan, Pakistan Cabinet Meeting, Pak Government, Pti,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो