LIVE: मोदी-जिनपिंग ने की मुलाक़ात, दोनों देशों के बीच समझौतों पर हुए दस्तखत

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 18वें शंघाई सहयोग सगंठन (एससीओ) शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए शनिवार सुबह चीन के किंगडाओ के लिए रवाना हो गए।

  |   Updated On : June 09, 2018 05:02 PM
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (फोटो: @PMOIndia)

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (फोटो: @PMOIndia)

ख़ास बातें
  •  पूर्ण सदस्यता के साथ सम्मेलन में भारत की यह पहली भागीदारी है
  •  पीएम मोदी शनिवार को चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ द्विपक्षीय बैठक करेंगे
  •  एससीओ शिखर सम्मेलन में क्षेत्रीय सुरक्षा और आतंकवाद के मुद्दे पर चर्चा की जाएगी

नई दिल्ली:  

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 18वें शंघाई सहयोग सगंठन (एससीओ) शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए चीन के किंगडाओ पहुंच चुके हैं।

दो दिवसीय इस शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने गए पीएम मोदी शनिवार को चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ द्विपक्षीय बैठक करेंगे।

शिखर सम्मेलन के इतर प्रधानमंत्री मोदी एससीओ देशों के सदस्यों के नेताओं के साथ बैठक करने वाले हैं।

चीन रवाना होने से पहले पीएम मोदी ने लिखा, 'एससीओ के पास आतंकवाद, अलगाववाद और चरमपंथ से लड़ने का बड़ा एजेंडा है। और व्यापार, कस्टम, कानून, स्वास्थ्य और कृषि में भागीदारी में बढ़ावा देना है। पर्यावरण संरक्षण और आपदा जोखिम को कम करना और लोगों के साथ संबंधों को बढ़ाना इसका लक्ष्य है।'

मोदी रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से भी मुलाकात करेंगे। मोदी और पुतिन के बीच पिछले महीने सोच्चि में अनौपचारिक मुलाकात हुई थी। 

एससीओ शिखर सम्मेलन में क्षेत्रीय सुरक्षा और आतंकवाद के मुद्दे पर चर्चा की जाएगी। सम्मेलन में मोदी पाकिस्तान द्वारा आतंकवाद को बढ़ावा देने के मुद्दे को उठा सकते हैं।

शिखर सम्मेलन की प्रमुख विशेषताओं में से एक ईरानी राष्ट्रपति हसन रूहानी की उपस्थिति होगी। चीन ने उन्हें फोरम में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया है।

रूहानी की उपस्थिति का महत्व इसलिए भी बढ़ जाता है, क्योंकि हाल ही में अमेरिका ने ईरान परमाणु समझौते से अपने हाथ वापस खींच लिए हैं। चीन ने इस परमाणु समझौते की रक्षा का संकल्प लिया हुआ है।

मंगोलिया, अफगानिस्तान और बेलारूस के साथ ईरान को शिखर सम्मेलन में पर्यवेक्षक का दर्जा दिया गया है। 

LIVE UPDATES:

# पीएम मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग की मौजूदगी में भारत और चीन ने समझौतों पर हस्ताक्षर किए।

# चीन के किंगडाओ में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मुलाक़ात की। इससे पहले दोनों देशों के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर की बातचीत हुई

# पीएम मोदी ने चीन में शंघाई कॉर्पोरेशन ऑर्गेनाइजेशन के महा सचिव राशिद अलिमोव से मुलाक़ात की। 

# किंगडाओ के होटल ली मेरिडियन पहुंचे पीएम मोदी, भारतीय लोगों से मिले।

# पीएम मोदी चीन के किंगडाओ पहुंचे, 18वें एससीओ समिट में लेंगे हिस्सा

एससीओ की पूर्ण सदस्यता के साथ सम्मेलन में भारत की यह पहली भागीदारी है।

पिछले साल जून 2017 में अस्ताना सम्मेलन के दौरान पाकिस्तान के साथ भारत एससीओ का पूर्णकालिक सदस्य बना था।

इस संगठन में भारत और पाकिस्तान के अलावा चीन, रूस, कजाकिस्तान, किर्गिस्तान, तजाकिस्तान और उजबेकिस्तान शामिल हैं।

एससीओ शिखर सम्मेलन में क्षेत्रीय सुरक्षा और आतंकवाद के मुद्दे पर चर्चा की जाएगी। सम्मेलन में प्रधानमंत्री मोदी पाकिस्तान द्वारा आतंकवाद को बढ़ावा देने के मुद्दे को उठा सकते हैं। पाकिस्तान के राष्ट्रपति ममनून हुसैन शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे।

और पढ़ें: सेंटोसा में काले इतिहास के बीच ट्रंप और किम तलाशेंगे भविष्य

First Published: Saturday, June 09, 2018 08:33 AM

RELATED TAG: Sco Summit, Pm Modi, China, Shanghai Cooperation Organisation, Qingdao, Xi Jinping, Pakistan, Russia,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो