अमेरिका-मेक्सिको सीमा पर दीवार निर्माण के लिए डोनाल्ड ट्रम्प ने मांगा फंड

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने बुधवार को ओवल कार्यालय से दिए एक दुर्लभ संबोधन में देश से अमेरिका-मेक्सिको सीमा पर दीवार निर्माण के लंबित पड़े वादे को पूरा करने के लिए कोष की मांग ताकि 'अनियंत्रित और अवैध' आव्रजकों के कारण 'बढ़ रहे मानवीय और सुरक्षा संकट' को रोका जा सके.

PTI  |   Updated On : January 09, 2019 06:50 PM
डोनाल्ड ट्रम्प, अमेरिका के राष्ट्रपति

डोनाल्ड ट्रम्प, अमेरिका के राष्ट्रपति

नई दिल्ली:  

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने बुधवार को ओवल कार्यालय से दिए एक दुर्लभ संबोधन में देश से अमेरिका-मेक्सिको सीमा पर दीवार निर्माण के लंबित पड़े वादे को पूरा करने के लिए कोष की मांग ताकि 'अनियंत्रित और अवैध' आव्रजकों के कारण 'बढ़ रहे मानवीय और सुरक्षा संकट' को रोका जा सके. हालांकि उन्होंने इस मामले पर किसी तरह के राष्ट्रीय आपातकाल की घोषणा नहीं की. अमेरिका के आंशिक रूप से ठप पड़े सरकारी कामकाज के बीच ट्रम्प ने यह बयान दिया है.

राष्ट्रपति सरकार के कामकाज शुरू करने के बदले डेमोक्रेट्स पर दीवार के लिए 5.7 अरब डॉलर देने का दबाव बना रहे हैं. बंद को लेकर सरकारी कर्मचारियों और अन्य को लेकर परेशान हो रहे रिपब्लिकन से भी उन्होंने समर्थन पाने की कोशिश की.

ओवल कार्यालय से अपने पहले संबोधन में ट्रम्प ने कहा, 'यह मानवीय संकट है. दिल और आत्मा का संकट है.' उन्होंने कहा कि लाखों वैध प्रवासियों का अमेरिकी नागरिक स्वागत करते हैं जो अमेरिकी समाज को समृद्ध करते हैं और देश में योगदान करते हैं. ट्रम्प ने कहा कि सभी अमेरिकी अनियंत्रित, अवैध आव्रजकों से परेशान हैं.

दक्षिणी मेक्सिको सीमा पर अवरोधक लगाने के संबंध में दिए आठ मिनट के बयान में ट्रम्प ने कहा, 'यह सार्वजनिक संसाधनों को नियंत्रित करता है और नौकरियों तथा मजदूरियों को कम करता है. इन सबमें सबसे अधिक नुकसान अफ्रीकी-अमेरिकी और हिस्पैनिक अमेरिकियों का होता है.' 

अमेरिका-मेक्सिको दीवार निर्माण ट्रम्प के 2016 राष्ट्रपति चुनाव के अभियान का भी एक बड़ा मुद्दा था.

ट्रम्प को दीवार निर्माण के लिए 5.7 अरब डॉलर चाहिए, हालांकि उन्होंने अपने प्रचार अभियान के दौरान कहा था कि वह मेक्सिको को भी इसके लिए भुगतान करने को मजबूर करेंगे.

डेमोक्रेट्स कोष देने से इनकार कर रहे हैं उसका कहना है कि दीवार महंगी और अप्रभावी होगी. दोनों के अपने-अपने रुख पर अड़े रहने के बाद 22 दिसम्बर को सरकारी कामकाज आंशिक रूप से ठप हो गया, जिसमें नौ सरकारी विभाग तथा कई छोटी एजेंसियां काम नहीं कर रहीं. वहीं करीब 8,00,000 कर्मचारी या तो बिना वेतन के छुट्टी पर हैं या बिना वेतन के काम कर रहे हैं.

बुधवार को बंद 19वें दिन में प्रवेश कर इतिहास का दूसरा सबसे लंबे समय तक चला बंद बन जाएगा. ट्रम्प ने पिछले कई दिनों में मामले पर राष्ट्रीय आपातकाल घोषित करने की धमकी भी दी थी लेकिन बुधवार को अपने संबोधन में उन्होंने ऐसी कोई घोषणा नहीं की, जिसकी सबको आशंका थी.

दीवार के लिए अपील करते हुए ट्रम्प ने कहा कि संघीय सरकार डेमोक्रेट की वजह से ठप है. राष्ट्रपति ने कहा कि अमेरिका में बिकने वाली 90 प्रतिशत हेरोइन मेक्सिको से आती है. उन्होंने कहा कि दक्षिणी सीमा से आने वाले अवैध आव्रजक और मादक पदार्थ अमेरिका की सुरक्षा में बड़ा खतरा है.

और पढ़ें- वैश्विक आर्थिक विकास दर 2019 में घटकर 2.9 फीसदी रहेगी: विश्व बैंक

सीनेटर चक शूमर ने कहा कि अमेरिकी लोकतंत्र ट्रम्प के हिसाब से काम नहीं करेगा.

First Published: Wednesday, January 09, 2019 06:50 PM

RELATED TAG: Us Mexico Wall, Us Mexico Wall Funding, Donald Trump, Chuck Schumer, Us Mexico Crisis,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें
Newsstate Whatsapp

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो