कोरियाई संकट: ट्रंप की अपील के बाद उच्चस्तरीय प्रतिनिधिमंडल भेजने पर चीन सहमत

फिलीपींस की राजधानी मनीला में आसियान की बैठक के दौरान चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच हुई मुलाकात के बाद कोरियाई तनाव को कम करने की दिशा में कोशिशों की शुरुआत हो गई है।

  |   Reported By  :  News State Bureau   |   Updated On : November 15, 2017 11:03 AM
किम जोंग उन (फाइल फोटो)

किम जोंग उन (फाइल फोटो)

ख़ास बातें
  •  कोरियाई संकट का समाधान निकालने की दिशा में चीन उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल भेजने पर सहमत
  •  चीनी राजनयिकों का यह प्रतिनिधिमंडल शुक्रवार को उत्तर कोरिया जाएगा

नई दिल्ली :  

फिलीपींस की राजधानी मनीला में आसियान की बैठक के दौरान चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच हुई मुलाकात के बाद कोरियाई तनाव को कम करने की दिशा में कोशिशों की शुरुआत हो गई है।

ट्रंप और जिनपिंग की मुलाकात के बाद चीन ने एक उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल को उत्तर कोरिया भेजने का फैसला लिया है। चीनी राजनयिकों का यह प्रतिनिधिमंडल शुक्रवार को उत्तर कोरिया जाएगा।

चीन की यात्रा के दौरान ट्रंप ने सभी देशों से कोरियाई परमाणु शासन को हथियार और फंडिंग रोके जाने की अपील की थी।

चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग के साथ ग्रेट हॉल में संयुक्त कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए ट्रंप ने कहा कि दोनों नेताओं ने उत्तर कोरियाई संकट को हल करने की दिशा में बातचीत की है।

गौरतलब है कि चीन, उत्तर कोरिया का सबसे बड़ा कारोबारी सहयोगी है और इस लिहाज से वाशिंगटन का मानना है इस संकट का समाधान निकालने में चीन की बड़ी भूमिका हो सकती है।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा, सभी देश उत्तर कोरियाई के साथ सभी व्यापार रोक देने का आग्रह किया

ट्रंप की इस अपील के बाद चीन प्योंगयांग के खिलाफ कड़े प्रतिबंध लगाने पर सहमत हो गया था। ट्रंप ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी थी कि चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग उत्तर कोरिया के खिलाफ प्रतिबंधों को बढ़ा रहे हैं।

उत्तर कोरिया के परमाणु परीक्षण को लेकर कोरियाई प्रायद्वीप में तनाव की स्थिति बनी हुई है। कोरिया कई मौके पर अमेरिका को सीधे-सीधे युद्ध की धमकी दे चुका है।

माना जाता है कि कोरियाई मिसाइल कई अमेरिकी शहरों को टारगेट कर सकते हैं। वहीं युद्ध की हालत में सबसे बड़ा खतरा उत्तर कोरिया के पड़ोसी दक्षिण कोरिया औऱ जापान को है, जो अमेरिका के करीबी सहयोगी हैं।

दक्षिण चीन सागर पर भारत ने बढ़ाई ड्रैगन की चिंता, आसियान में नियम आधारित सुरक्षा ढांचे पर दिया जोर

First Published: Wednesday, November 15, 2017 10:32 AM

RELATED TAG: China, North Korea, Korean Crisis, Xi Jinping, Donald Trump,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो